scriptkarauli | स्वीकृति के १० और उद्घाटन के ३ माह बाद भी शुरू नहीं हुआ उपतहसील कार्यालय | Patrika News

स्वीकृति के १० और उद्घाटन के ३ माह बाद भी शुरू नहीं हुआ उपतहसील कार्यालय

गुढ़ाचन्द्रजी. सरकार ने गत वर्ष बजट में गुढ़ाचन्द्रजी को उपतहसील का दर्जा दे दिया। लेकिन एक वर्ष पूरा होने को है, लेकिन अभी तक उपतहसील शुरू नहीं हो पाई है। जिससे लोगों को अभी तक उपतहसील का सपना अधूरा है। डेढ़ दशक से ग्रामीणों की चली आ रही उपतहसील की मांग को गत वर्ष राज्य सरकार ने विधायक पीआर मीना की पहल पर स्वीकृत कर दी। जिससे लोगों को काफी उम्मीद जगी।

करौली

Published: January 14, 2022 11:54:57 am



गुढ़ाचन्द्रजी. सरकार ने गत वर्ष बजट में गुढ़ाचन्द्रजी को उपतहसील का दर्जा दे दिया। लेकिन एक वर्ष पूरा होने को है, लेकिन अभी तक उपतहसील शुरू नहीं हो पाई है। जिससे लोगों को अभी तक उपतहसील का सपना अधूरा है। डेढ़ दशक से ग्रामीणों की चली आ रही उपतहसील की मांग को गत वर्ष राज्य सरकार ने विधायक पीआर मीना की पहल पर स्वीकृत कर दी। जिससे लोगों को काफी उम्मीद जगी। उपतहसील से कस्बे में व्यापारियों को रोजगार विकसित होने सहित कई उम्मीदें थी। गत वर्ष नवम्बर में विधायक पीआर मीणा व जिला कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने नवसृजित उपतहसील का फीता काटकर उद्घाटन कर दिया, लेकिन उपतहसील अभी तक कागजों में ही चल रही है।
दस माह बाद भी नहीं मिल रहा लाभ
गुढाचन्द्रजी को उपतहसील का दर्जा मिलने के दस माह बाद भी कोई लाभ नहीं मिल रहा है। राजस्व संबंधी कार्यो के लिए लोगों को दस किमी दूर नादौती ही जाना पड़ रहा है। उपतहसील के लिए ना तो नवीन भवन की स्वीकृति मिली है और ना ही कर्मचारियों के पद स्वीकृत किए गए हैं। हालांकि कस्बे में उपतहसील के लिए प्राथमिक विद्यालय के कमरों का रंग-रोगन जरूर करा दिया है। लेकिन यह भी अनुपयोगी बना हुआ है। पिछले साल अक्टूबर में सरकार ने नायब तहसीलदार की नियुक्ति की थी। लेकिन वे भी कुर्सी संभालने के चार दिन बाद ही सेवानिवृत्त हो गए। इसके बाद से अब तक नायब तहसीलदार का पद रिक्त चल रहा है। उपतहसील कार्यालय में नायब तहसीलदार सहित गिरदावर, पटवारी, लिपिकों के पद रिक्त चल रहे हैं। इससे लोगों को उपतहसील का लाभ नहीं मिल पा रहा है। भाजपा मंडल महामंत्री ममता गोयल, ग्राम रक्षक शिवलाल आमलीपुरा ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर उपतहसील का संचालन सुचारु रूप से कराने की मांग की है।
६० गांवों लोगों को परेशानी
उपतहसील कार्यालय का संचालन नहीं होने से करीब ६० गांवों के लोगों को परेशान हैं। गुढ़ाचन्द्रजी सहित बाड़ा, राजाहेड़ा, तालचिड़ा, पाल आदि गांवों के लोगों को कार्यों के लिए नादौती जाना पड़ता है।

स्वीकृति के १० और उद्घाटन के ३ माह बाद भी शुरू नहीं हुआ उपतहसील कार्यालय
गुढ़ाचन्द्रजी कस्बे में उपतहसील कार्यालय का सूना भवन।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Covid-19 Update: भारत में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्डSubhash Chandra Bose Jayanti 2022: आज इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का PM Modi करेंगे लोकार्पणदिल्ली में जनवरी में बारिश का पिछले 32 साल का रिकॉर्ड ध्वस्त, ठंड से छूटी कंपकंपी, एयर क्वालिटी में सुधारUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारU19 World Cup: कौन है 19 साल का लड़का Raj Bawa? जिसने शिखर धवन को पछाड़ रचा इतिहासUP TET Exam 2021 : बारिश पर भारी अभ्यर्थियोंं का उत्साह, कड़ी सुरक्षा में शुरू हुई TET परीक्षाAjmer Urs : 1 फरवरी को उतरेगा संदल, 2 को खुलेगा जन्नती दरवाजाUP Top News: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, दो पालियों में परीक्षा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.