scriptkarauli | सरकारी घोषणाएं थोथी, विकास के दावे खोखले | Patrika News

सरकारी घोषणाएं थोथी, विकास के दावे खोखले

सुविधाओं को मोहताज मासलपुर मासलपुर, तहसील मुख्यालय मासलपुर देश के नक्शे में अपनी विशेष पहचान रखता हैं। चाहे पान की मिठास हो या तिमनगढ़ के किले का इतिहास। वर्तमान में मासलपुर कस्बा, राजनीतिक उपेक्षा का शिकार है। राजनीतिक उपेक्षा के कारण कस्बे का समग्र भौतिक व आर्थिक विकास नहीं हो रहा है। मासलपुर शिक्षा, चिकित्सा, पेयजल, सड़क, विद्युत एवं भौतिक सुविधाओं से जूझ रहा है। चिकित्सा के हालात बदहाल है। यहां आदर्श सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को शहरी कैटेगरी दर्जा भी मिला है।

करौली

Published: July 28, 2022 12:29:19 pm

सरकारी घोषणाएं थोथी, विकास के दावे खोखले
मासलपुर, तहसील मुख्यालय मासलपुर देश के नक्शे में अपनी विशेष पहचान रखता हैं। चाहे पान की मिठास हो या तिमनगढ़ के किले का इतिहास। वर्तमान में मासलपुर कस्बा, राजनीतिक उपेक्षा का शिकार है। राजनीतिक उपेक्षा के कारण कस्बे का समग्र भौतिक व आर्थिक विकास नहीं हो रहा है। मासलपुर शिक्षा, चिकित्सा, पेयजल, सड़क, विद्युत एवं भौतिक सुविधाओं से जूझ रहा है। चिकित्सा के हालात बदहाल है। यहां आदर्श सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को शहरी कैटेगरी दर्जा भी मिला है। लेकिन यहां कोई सुविधा नहीं है। चिकित्सा कार्मिकों के स्वीकृत ३२ पदों में से मात्र ११ पद भरे हैं, जबकि २१ पद खाली हैं। विशषज्ञों के सभी पद खाली है। रोगियों को समुचित इलाज नहीं मिल रहा।
सरकारी घोषणाएं थोथी, विकास के दावे खोखले
मासलपुर तहसील कार्यालय 
सड़कों की हालत बदहाल
मासलपुर के डांग क्षेत्र में सड़कों की हालत बदहाल है। कस्बे को जिला मुख्यालय से जोड़ने वाला करौली-मासलपुर मुख्य सड़क मार्ग कोंडर मोड से मासलपुर तक मात्र २० किमी लंबी सड़क जर्जर व टूटी है। सड़क पर जगह-जगह पानी भरा होने से परेशानी रहती है। हालांकि वित्त एवं विनियोग चर्चा के दौरान २१ मार्च २०२२ को मुख्यमंत्री द्वारा कोंडर मोड़ से मासलपुर तक सड़क निर्माण के लिए ४८ करोड़ की राशि की घोषणा की थी, लेकिन सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा इस दिशा में अभी तक कोई भी कदम नहीं उठाया है। गांवों में कच्ची सड़कों से आमजन त्रस्त है। इसी प्रकार क्षेत्र के कई सीनियर विद्यालयों में प्रधानाचार्य के पद रिक्त हैं। स्थानीय राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय, चैनपुर आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्राचार्य का पद रिक्त बना हुआ है।
बिजली पानी का संकट भी गंभीर
मासलपुर इलाके में बिजली पानी का संकट भी गंभीर है। कंचनपुर, सीलौती समेत डांग क्षेत्र के कई गांवों में पेयजल आपूर्ति पर्याप्त नहीं हो रही। लोगों को पानी के लिए जगह जगह भटकना पड़ रहा है।
कस्बे समेत क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति के हालत बदतर हैं । १०-१० घंटे बिजली नहीं आती। जिससे बिजली से होने वाले कार्य प्रभावित होते हैं। बजट में मासलपुर में १३२ केवी जीएसएस की घोषणा के बावजूद अभी तक इस दिशा में कोई कार्रवाई शुरू नहीं हुई है। ऐसे में विकास केवल दिखावा साबिज हो रहा है।
फोटो -

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

नीतीश कुमार ने कहा, 'BJP ने हमेशा किया अपमानित, की कमजोर करने की कोशिश'JDU ने BJP से गठबंधन तोड़ने का किया ऐलान, RJD के साथ है प्लान तैयारBihar Political Crisis Live Updates: राजभवन पहुंचे नीतीश कुमार, थोड़ी देर में देंगे इस्तीफा, उपेंद्र कुशवाहा ने पीएम मैटेरियल बतायाMaharashtra Cabinet Expansion: बीजेपी और शिंदे खेमे में 50-50 का फॉर्मूला लागू, पहले कैबिनेट विस्तार में नहीं मिली महिला को जगहगुजरात के जामनगर में मुहर्रम पर बड़ा हादसा, ताजिया जुलूस में करंट लगने से दो की मौत, कई घायलGoogle: अमरीका के गूगल स्थित डेटा सेंटर में बड़ा हादसा,आग लगने से तीन कर्मचारी झुलसे, सेवाएँ बाधित होने की आशंकाAsia cup 2022: पाकिस्तान के खिलाफ मैदान में उतरते ही विराट कोहली बना देंगे ये रिकॉर्डकेजरीवाल का दावा- राष्ट्रीय पार्टी बनने से एक कदम दूर है AAP, किसी पार्टी को कैसे मिलता है राष्ट्रीय दल का दर्जा?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.