करौली में चहूंओर फाग गीतों की बह रही बयार

करौली. शहर में जगह-जगह फागोत्सव के आयोजन जारी हैं।

By: Dinesh sharma

Published: 07 Mar 2020, 09:58 PM IST

करौली. शहर में जगह-जगह फागोत्सव के आयोजन जारी हैं। इसी क्रम में शनिवार को यहां कई स्थानों पर आयोजित होली गीत कार्यक्रमों में फाग गीतों की बयार बही।
बार एसोसिएशन की ओर से न्यायालय परिसर में होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस मौके पर स्थानीय होली गायन मंडलियों ने होली गीत प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम की शुरूआत गणेश वंदना के साथ हुई।

इसके बाद राजेश शर्मा, रामबाबू शर्मा, मोहन शर्मा, रिंकू शर्मा, मन्ना, राधामदनमोहन आदि कलाकारों ने फाग गीतों की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में जिला एवं सत्र न्यायाधीश संगीता शर्मा सहित पारिवारिक न्यायालय न्यायाधीश इन्दू पारीक, सीजेएम राजेश मीणा, एडीजे हेमराज गौड़, विशिष्ट न्यायाधीश जगमोहन अग्रवाल, एडीजे रेखा यादव, एसीओएम ऋतु मीणा, मुंसिफ मजिस्ट्रेट कांताकुमारी, न्यायाधीश विभा आर्य, बार एसोसिएशन अध्यक्ष जयेंद्र सिंह सहित अधिवक्ता मौजूद थे।

इसी प्रकार यहां पुरानी सब्जी मण्डी के समीप सीताराम जी मंदिर में आयोजित फागोत्सव में महिलाओं ने फाग गीतों की गुंज के बीच खूब नृत्य किया। इस दौरान ममता, राधा, अंजू, रेखा, रेणू सहित अन्य ने रंग मत डारे से सांवरिया मेरो गुजर मारेगो..., आज बृज में होरी रे रसिया...., कन्हैया बृज रखवारो याही पे डारुंगी रंग... आदि होली गीतों की प्रस्तुति दी।


इसी क्रम में जडिय़ा की बगीची कॉलोनी में होली गीत गायन कार्यक्रम हुआ। डॉ. नरेश शर्मा व विद्या देवी वैष्णव ने बताया कि इस दौरान पंचमुखी हनुमानजी भक्त मण्डल, श्री मदनमोहनजी संध्या भक्त मण्डली की महिलाओं ने होली गीतों की प्रस्तुति दी।

इस दौरान मंडलियों ने पकड़ो री बृजनार, कन्हैया होरी खेलन आयो है...., बरसाने से आई सुनो ललना..., होरी आई रे आई रे ओ नथवारी होरी आई रे..., मैया बरसाने में होरी है मोहे प्रेम संदेशो आयो है..., आ जाइयो श्याम बरसाने गांव तोहे होली खूब खिलाई दूंगी... आदि फाग गीतों की प्रस्तुति दी। जिन पर महिलाओं ने जमकर नृत्य किया।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned