.स्क्रीनिंग के लिए अस्पताल में लगी रही कतार, विभिन्न राज्यों से आ रहे लोग

करौली. कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर देश में चल रहे लॉक डाउन के बीच विभिन्न राज्यों से लोगों का अभी भी करौली जिले में विभिन्न गांवों में आना जारी है।

By: Dinesh sharma

Updated: 29 Mar 2020, 08:10 PM IST

करौली. कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर देश में चल रहे लॉक डाउन के बीच विभिन्न राज्यों से लोगों का अभी भी करौली जिले में विभिन्न गांवों में आना जारी है। कोरोना वायरस के कारण फिलहाल मजदूरी छूट जाने के बाद लोग अपने घरों पर जा रहे हैं। लॉक डाउन में बस, ट्रेनों का आवागमन बंद हैं, ऐसे में अनेक लोग पैदल या रास्ते में मिलने वाले साधनों से जैसे-तैसे करौली पहुंच रहे हैं।

रविवार को भी जयपुर, गुजरात, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, फरीदाबाद, हरियाणा आदि स्थानों से जिले में सैंकड़ों लोग लौटे। इन सब की जब सामान्य चिकित्सालय में स्क्रीनिंग की गई तो बाहर सड़क तक कतार लग गई। बड़ी संख्या में बाहर से लोगों के आने के कारण चिकित्सालय के चिकित्साकर्मियों-नर्सिंग स्टाफ को भी खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। ये सभी लोग करौली इलाके के विभिन्न गांवों के हैं।

आइसोलेशन वार्ड प्रभारी जगमोहन माली ने बताया कि रविवार को अस्पताल के आउटडोर में 224 जनों की स्क्रीनिंग की गई, जिनमें से तीन जनों को संदिग्ध मानते हुए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। जबकि अन्य को होम आइसोलेशन की सलाह दी गई। अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती संदिग्धों की संख्या अब 9 हो गई है।

बढ़ रहा दबाब, लोगों में भी भय
विभिन्न राज्यों से करौली इलाके में लौट रहे लोगों के कारण जहां अस्पताल में संख्या में बढ़ रही है, वहीं लोगों में भी भय बना हुआ है। अस्पताल सूत्रों का कहना है कि जो लोग बाहर से आ रहे हैं, उनकी जांच के लिए सभी इलाकों में चिकित्सा टीमों की व्यवस्था है, लेकिन करौली इलाके में आ रहे लोगों में से अधिकांश को जिला अस्पताल ही भेजा जा रहा है।

वहीं दूसरी ओर लोगों का कहना है कि अभी तक करौली में कोरोना वायरस को लेकर शांति बनी हुई है, लेकिन प्रतिदिन दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में आ रहे लोगों के कारण भय बना हुआ है।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned