बाजार में परवान नहीं चढ़ सकी ईद की खुशियां

बाजार में नहीं छाई ईद की रौनक
बिक्री नहीं हो पाने से दुकानदार मायूस

By: Dinesh sharma

Published: 24 May 2020, 08:25 PM IST

करौली. कोरोना के कहर ने इस बार बाजार में ईद की खुशियों को भी फीका किया है। रमजान माह में गुलजार रहने वाले बाजार लॉक डाउन के बीच आबाद नहीं हो सके। हालांकि प्रशासन ने कुछ छूट देकर दुकानों को खोलने की अनुमति जारी की हुई है, लेकिन प्रतिवर्ष ईद के त्योहार के मद्देनजर बाजार में छाई रहने वाली रौनक इस बार गुम हुईं।

ऐसे में जहां बच्चें भी अपने मनपसंद की खरीदारी नहीं कर सके, वहीं ईद पर होने वाला व्यवसाय भी आशानुरूप नहीं होने से दुकानदार मायूस हैं। हालांकि घरों में ईद की तैयारियां की गई हैं। गत वर्षों तक ईद से 10-15 दिन पहले ही बाजारों में कपड़े सहित विभिन्न वस्तुओं की बिक्री शुरू हो जाती थी, लेकिन कोरोना ने इस बार सब उम्मीदों पर पानी फेरा है।

इस स्थिति को लेकर पत्रिका ने दुकानदारों से चर्चा की तो वे बोले कि कोरोना के कहर ने खुशियों को गुम कर दिया। हालांकि कोरोना से बचने के लिए लॉक डाउन भी जरुरी था।

यह बोले दुकानदार
पिछले वर्षों तक ईद के अवसर पर 10 दिन पहले ही बिक्री शुरू हो जाती थी। सुबह से शाम तक अच्छी-खासी दुकानदारी होती, जिससे बाजार में चहल-पहल रहने के साथ दुकानदार भी रोजगार होने से खुश होते, लेकिन इस बार कोरोना के कहर ने उम्मीदों पर पानी फेरा है। इससे ना तो ग्राहक आए और ना ही बिक्री हुई। इससे नुकसान झेलना पड़ा है।
अनिल शाक्यवार, जनरल स्टोर, करौली

ईद के त्योहार पर अच्छे व्यवसाय की उम्मीद रहती है, लेकिन कोरोना से लगे लॉक डाउन के चलते बाजार पूरी तरह खुल नहीं पा रहे, वहीं कोरोना के संक्रमण से बचने की खातिर अधिकांश लोग भी अपने घरों में ही ठहरे हुए हैं। यह जरुरी भी है, लेकिन ईद पर हमारी ज्वैलरी की लाखों की होने वाली बिक्री ठप हो गई।
मुकेश गुप्ता ज्वेलरी विक्रेता, करौली

ईदुल फितर पर अवसर पर नए परिधानों की खूब खरीदारी होती रही है। एक पखवाड़े पहले से ही कपड़ों की खरीदारी शुरू होती, जो ईद के एक दिन पहले तक जारी रहती, लेकिन इस बार कोरोना वायरस ने सब उम्मीदों पर पानी फेर दिया। बाजार से रौनक ही गायब है।
इमरान खान, लेडीज सूट के विक्रेता, करौली

इस बार ईद के मौके पर चप्पल-जूतों की खूब बिक्री होती है। मांग के अनुरूप माल लाते हैं, जिससे ठीक-ठीक व्यवसाय हो जाता था, लेकिन इस बार बाजार में पूरी तरह सुस्ती है। कम ही ग्राहक बाजार में आ रहे हैं। पहले जहां रात तक दुकान खोलनी पड़ती थी, वहीं इस बार कुछ भी बिक्री नहीं है।
फिरोज खान, चप्पल-जूता विक्रेता, करौली

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned