माता के मंदिर के पट रहे बंद, श्रद्धालु हुए निराश, कोरोना के चलते अंजनी माता का मेला निरस्त

करौली. देवउठनी एकादशी के अवसर पर करौली के समीप पहाड़ी पर स्थित अंजनी माता के मंदिर पर भरने वाला मेला इस बार निरस्त होने से श्रद्धालुओं को माता के दर्शन नहीं हो सके।

By: Dinesh sharma

Published: 25 Nov 2020, 10:06 PM IST

करौली. देवउठनी एकादशी के अवसर पर करौली के समीप पहाड़ी पर स्थित अंजनी माता के मंदिर पर भरने वाला मेला इस बार निरस्त होने से श्रद्धालुओं को माता के दर्शन नहीं हो सके। कोरोना संक्रमण के चलते जिला प्रशासन ने मेले पर रोक के आदेश जारी किए थे। इसके बाद दो दिन के लिए मंदिर के पट बंद कर दिए गए।

मंदिर के पट बंद होने की जानकारी नहीं होने के चलते अनेक लोग माता के दर्शन करने पहुंचे, लेकिन दर्शन नहीं होने से वे मायूस होकर लौट गए। वहीं देवउठनी एकादशी के मद्देनजर मंदिर क्षेत्र में भोग-प्रसाद और खेल-खिलौनों की कई अस्थायी दुकानें भी लग गईं। मंदिर पर पुलिस जाप्ता तैनात किया गया।

गौरतलब है कि पांचना नदी की पहाड़ी पर स्थित अंजनी माता का मंदिर प्राचीन है, जिसे करौली शहर की स्थापना से पहले का बताया जाता है। प्रतिवर्ष देवउठनी एकादशी के अवसर पर प्रतिवर्ष अंजनी माता का मेला भरता है। इस मेले में विभिन्न गांव-कस्बों और शहर के हजारों लोगों की भीड़ उमड़ती है। इस मेले के मद्देनजर प्रतिवर्ष जिले में जिला प्रशासन की ओर से अवकाश भी घोषित किया जाता है।

इस वर्ष भी साल की शुरूआत में ही देवउठनी एकादशी पर अवकाश घोषित कर दिया गया था, लेकिन कोरोना महामारी के कारण जिले में धारा 144 लागू हैं और कोरोना संक्रमण को रोकने की खातिर प्रशासन ने मेले पर रोक लगा दी। इसके बाद मंदिर के पट भी बुधवार-गुरुवार के लिए बंद कर दिए गए। हालांकि सरकारी कार्यालयों में अवकाश रहा।

इधर मंदिर के पट बंद होने की जानकारी नहीं होने से अनेक श्रद्धालु माता के दर्शनों को पहुंचे, दर्शन नहीं होने से वे मायूस हुए। ऐसे में उन्होंने माता को धोक लगाकर बाहर ही प्रसादी चढ़ाई। इस दौरान मंदिर महंत और पुलिस की ओर से श्रद्धालुओं को कोरोना के कारण पट बंद होने की जानकारी दी गई। साथ ही पुलिसकर्मियों ने भोग-प्रसाद , खिलौनों आदि की दुकान लेकर पहुंचे दुकानदारों को भी वहां से हटाया।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned