हड़ताल से पेट्रोल-डीजल के लिए परेशान हुए लोग

करौली. राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के आह्मन पर राज्य में डीजल-पेट्रोल की वेट दरें कम करने की मांग को लेकर शनिवार को जिले में पेट्रोल पम्प संचालक एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल पर रहे।

By: Dinesh sharma

Published: 10 Apr 2021, 08:32 PM IST

करौली. राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के आह्मन पर राज्य में डीजल-पेट्रोल की वेट दरें कम करने की मांग को लेकर शनिवार को जिले में पेट्रोल पम्प संचालक एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल पर रहे। सुबह 6 बजे से ही पेट्रोल पम्पों के बंद होने से लोगों को डीजल-पेट्रोल के लिए परेशानी उठानी पड़ी।
पूर्व निर्धारित आह्मान के अनुसार सुबह से ही पेट्रोल पम्प बंद हो गए। पम्प संचालकों की ओर से पम्पों पर सांकेतिक हड़ताल के पोस्टर-सूचना चस्पा करते हुए चेन-रस्सी आदि बांधकर पम्प परिसर में वाहनों का प्रवेश रोक दिया।

इस बीच अनेक वाहन चालक विशेष रूप से दोपहिया वाहन सवार पेट्रोल लेने पम्पों पर पहुंचे तो हड़ताल की जानकारी मिली। पेट्रोल नहीं मिल पाने से वे निराश होकर लौट गए। पेट्रोल पम्प एसोसिएशन के अर्जुनसिंह धाबाई, प्रदीप, उदय जाटव, संजीव मीना आदि ने बताया कि राजस्थान में अन्य राज्यों की तुलना में पेट्रोल-डीजल पर वेट अधिक है। पड़ोसी राज्यों में राजस्थान के मुकाबले कम वेट होने से वहां डीजल-पेट्रोल के दाम 7 से 10 रुपए तक कम है।

इसके चलते प्रदेश में पेट्रोल पम्पों पर डीजल-पेट्रोल की बिक्री पर असर पड़ रहा है। पेट्रोल पम्पों पर 30 फीसदी तक बिक्री कम हो गई है, जिससे पेट्रोल पम्प संचालकों के समक्ष मुश्किल खड़ी हो रही है। उन्होंने सरकार से पम्प संचालकों की मांग को पूरा करते हुए वेट दर कम करने की मांग की।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned