एक माह बाद करौली बस स्टैण्ड से दौड़ेंगी रोडवेज बसें

करौली. कोरोना महामारी के कहर के चलते यहां रोडवेज के केन्द्रीय बस स्टैण्ड पर एक माह बाद रोडवेज बसों पहिए 10 जून से फिर से घूमेंगे।

By: Dinesh sharma

Published: 09 Jun 2021, 08:20 PM IST

करौली. कोरोना महामारी के कहर के चलते यहां रोडवेज के केन्द्रीय बस स्टैण्ड पर एक माह बाद रोडवेज बसों पहिए 10 जून से फिर से घूमेंगे। राज्य सरकार की ओर से अनुमति जारी करने के बाद रोडवेज प्रशासन की ओर से बसों का संचालन शुरू करने की तैयारी की गई है। हालांकि शुरूआती दौर में सभी बसों का संचालन नहीं होगा। कुछेक बसें फिलहाल संचालित की जाएंगी।

स्थानीय रोडवेज बस स्टैण्ड प्रभारी शिवदयाल शर्मा ने बताया कि सरकार से अनुमति और उच्चाधिकारियों के आदेशों के बाद गुरुवार से करौली बस स्टैण्ड से विभिन्न मार्गों पर बसों का संचालन शुरू होगा। हालांकि फिलहाल करीब 27 बसों का संचालन शुरू किया जाएगा। यात्रीभार बढऩे और आदेशानुसार आगे गाडिय़ों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। उन्होंने बताया कि करौली से जयपुर, हिण्डौन, गंगापुरसिटी, धौलपुर आदि मार्गों पर बसों का संचालन शुरू किया जाएगा। गौरतलब है कि अप्रेल-मई माह में कोरोना के पैर पसारने के बाद कोरोना की चेन तोडऩे के लिए गत 10 मई से लॉकडाउन के चलते रोडवेज और निजी बसों का संचालन थमा हुआ था, जिससे बस स्टेण्डों पर सन्नाटा पसरा रहा।

होगी थर्मल स्क्रीनिंग और सेनेटाइजेशन
बसों में यात्रियों को बिठाने से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी, वहीं बसों का भी सेनेटाइज किया जाएगा। इसके लिए रोडवेज प्रबंधन ने कार्मिकों की ड्यूटी भी लगाई है। बस में बैठक क्षमता के अनुसार 50 फीसदी यात्री ही यात्रा कर सकेंगे।

कैलादेवी मार्ग पर भी शुरू हो सकता है संचालन
कैलादेवी मार्ग पर करीब दो माह से बंद रोडवेज बसों का भी अब संचालन हो सकता है। रोडवेज सूत्रों के अनुसार दो माह से कैलादेवी मार्ग पर बसों का संचालन बंद है। अब गुरुवार से सभी मार्गों पर रोडवेज बसों का संचालन शुरू हो रहा है। ऐसे में कैलादेवी मार्ग पर भी कुछेक बसें संचालित होने की संभावना है। गौरतलब है कि करौली बस स्टेण्ड सहित विभिन्न स्थानों से आने वाली कुल 19 रोडवेज बसों का कैलादेवी आस्थाधाम तक संचालन होता था।

निजी बसों का नहीं होगा संचालन
सरकार ने निजी बसों के संचालन की भी मंजूरी दी है, लेकिन गुरुवार से निजी बसें संचालित नहीं होंगे। निजी बस ऑपरेटर्स अपनी मांगों को लेकर बसों का संचालन बंद रखेंगे। निजी बस ऑपरेटर्स यूनियन के अध्यक्ष मोहन गर्ग के अनुसार सरकार ने बस संचालन की अनुमति तो दी है, लेकिन वीकेंड के दौरान बसों का संचालन बंद रहेगा, इससे बस संचालन से कोई फायदा नहीं है। वहीं अभी तक सरकार ने टैक्स माफी भी नहीं की है। वहीं इस बीच डीजल के दामों में भी खूब बढ़ोतरी हो गई है। गर्ग के अनुसार सरकार द्वारा निजी बस संचालकों को आर्थिक पैकेज देने की मांग है। बस संचालक आर्थिक रूप से बुरी तरह त्रस्त हो चुके हैं। ऐसे में सरकार को आर्थिक पैकेज देना चाहिए। इसे लेकर ज्ञापन भी सौंपा जाएगा।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned