डांग के दुर्गम क्षेत्र के बाशिंदों को जलापूर्ति में सौलर बनेगा सहारा

114 गांवों में सौलर के जरिए संचालित होंगी 136 जल योजनाएं

टेण्डर प्रक्रिया अन्तिम चरण में

1901.44 लाख रुपए हैं स्वीकृत

By: Dinesh sharma

Published: 13 Sep 2021, 09:34 PM IST


दिनेश शर्मा

करौली. डांग क्षेत्र के दुर्गम इलाकों में बसे गांव-ढाणियों को जल जीवन मिशन योजना के अन्तर्गत सोलर के जरिए पानी पहुंचाया जाएगा। योजना के तहत सपोटरा विधानसभा क्षेत्र के 114 गांवों डांग और दुर्गम क्षेत्र की गांव-ढाणियों के लिए सौलर से पानी पहुंचाने की तैयार की गई स्कीम की निविदा प्रक्रिया इसी माह पूर्ण हो जाएंगी। उम्मीद है कि 19 करोड़ रुपए से अधिक की इस सोलर स्कीम के पूर्ण होने के बाद दशकों से पानी की खातिर परेशानी झेल रहे हजारों परिवारों को पेयजल संकट से निजात मिल सकेगी। टेण्डर प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद आगे की कार्रवाई होगी।

जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग (पीएचईडी) सूत्रों के अनुसार आगामी वर्ष में डांग क्षेत्र के गांवों में सोलर स्कीम के कार्य शुरू होने की उम्मीद है।

गर्मियों में गहरा जाती है समस्या
गौरतलब है कि कैलादेवी, करणरपुर और मण्डरायल क्षेत्र के अनेक गांव-ढाणी दुर्गम बीहड़ों में बसे हैं, जहां पेयजल की गंभीर समस्या रहती है। हैण्डपम्प या कुएं ही ग्रामीणों की प्यास बुझाते हैं, लेकिन गर्मियों के दौरान यह समस्या विकराल हो जाती है। जलस्रोतों का पानी रसातल को जाने से ग्रामीणों के समक्ष मुश्किल खड़ी हो जाती है। ऐसे में गंभीर समस्या वाले इलाकों में पानी के टैंकरों से ग्रामीण प्यास बुझा पाते हैं।

114 गांव-ढाणी, 136 कार्य
जल जीवन मिशन योजना के अन्तर्गत करौली, सपोटरा तथा मण्डरायल पंचायत समिति क्षेत्र के डांग क्षेत्र के कुल 114 गांव-ढाणियों को शामिल करते हुए 136 कार्य स्वीकृत किए गए थे। विभागीय सूत्रों के अनुसार इनमें अधिकांश गांव बिजली विहीन एवं पेयजल समस्याग्रस्त हैं। सोलर स्कीम के 136 कार्यों के लिए 19 करोड़ रुपए से अधिक की राशि स्वीकृत की गई।

किस इलाके में कौनसे गांव-ढाणी
सोलर स्कीम के तहत कैलादेवी इलाके में बण्डापुरा, बरगमां, बड़की, डगरिया, दौलतिया, गेदूआपुरा, गोदरभूदर, केशोपुरा, खातेकी, लखरूकी, नरेकी, खांडेपुरा गांव-ढाणी शामिल हैं। इसी प्रकार मण्डरायल क्षेत्र में श्यामपुर, बागुरियापुरा, चैनापुरा, डोयलेपुरा, गुर्जा, पसेला, पसेलिया, राजपुर, तीन पोखर, बोरियापुरा हल्लीपुरा, श्यामपुर मोड़, खान की चौकी, माडीभाट, रायेबली मथुरकी, चूरियाकी, धाधूरेत, करई, बाटदा नहारपुरा, मकनपुर स्वामी, टपरा, बुगडार बरूला, चौधरीपुरा, बरूला, पाटेकापुरा, कहारपुरा, कसेड़ बंधकापुरा, कसेड़ दर्रा, कसेड़ डेकराकी, कसेड़ फजीतपुर, कसेड़ हरियाकापुरा, कसेड़ झुकरी, कसेड़ खेकापुरा, कसेड़ मल्हापुरा, कसेड़ पाटौर, चिरमिल, बामूदा, अरौरा, मोंगेपुरा शैली वाले हनुमान मंदिर के पास, पांचौली निहालपुर, चौबेकीगुआड़ी, कूरतकी गुआड़ी, मानकपुरा, राहिर, सोनपुरा, अलबतकी गुआड़ी, आमरेकीगुआड़ी, चौबेकी, आमरेकी चौबे की, दरगमा, चंदेलीपुरा, दरूरा, मनाखुर, मुरीला, नवलपुरा, नींदर, चौरधान पाटौर, अमरापुर, टुडान, टोडा-पाटौर, गढ़ीकागांव, गुरदह-भूरेकापुरा, लांगरा, कसियापुरा में सोलर स्कीम के जरिए जलापूर्ति की जाएगी।

इसी प्रकार सपोटरा क्षेत्र में बाजना-डोंगरी, सिमिर, निभैरा के भर्रपुरा, खिजूरा, मरमदा, मौरची, निभैरा, रायबैली जगमान, बीरमकीगुआड़ी, आशाकीगुआड़ी, निभैरा, मरमदा, खिजूरा, अलबतीकी, दौलतपुरा का चौडक्याकला, चौडक्याखुर्द, दौलतपुरा, दौधाकीगुआड़ी, मातौरियाकीगुआड़ी, नैनियाकीगुआड़ी, पतिपुरा, रसिलपुरजागा, रावतपुरा, पहाड़पुरा, नैनियाकी, चौडिय़ाखाता, नरौली-लहरी, नरौली-टिपुआ, नरौली झरबर्ड़ी, नरौली, अमरगढ़ ऊंचीगुआड़ी, हटियाकी तथा मोतीपुरा गांव सहित कुल 114 गांव-ढाणी को सोलर के तहत शामिल किए गए हैं।


इनका कहना है
सपोटरा विधानसभा क्षेत्र के 114 गांव-ढाणियों के लिए जल जीवन मिशन योजना के अन्तर्गत सोलर स्वीकृत हुई थी, जिनकी टेण्डर प्रक्रिया चल रही है। प्रक्रिया के पूर्ण होने के बाद कार्य शुरू हो जाएंगे।
योगेन्द्र मीना, अधिशासी अभियंता, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, करौली

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned