scriptkarauli news | पत्रिका अभियान : प्रस्तावों को मिले हरी झण्डी तो शहरवासियों को मिले राहत | Patrika News

पत्रिका अभियान : प्रस्तावों को मिले हरी झण्डी तो शहरवासियों को मिले राहत

फाइलों में दबकर रह गए प्रस्ताव
जिला प्रशासन ने गत वर्ष राज्य सरकार को भेजे थे प्रस्ताव
शहर में पार्किंग स्थल की दरकार

करौली

Published: May 01, 2022 12:50:26 pm

करौली. शहर की बदहाल हो रही यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने की खातिर जिला प्रशासन की ओर से सार्वजनिक पार्किंग स्थल को लेकर गत वर्ष शुरू की गई कवायद अधूरी ही रह गई। जिला प्रशासन की यह कवायद कागजों में ही दबी है। ऐसे में अब तक जिला मुख्यालय पर सार्वजनिक पार्किंग का अभाव बना हुआ है। वहीं पार्किंग के टोटे से शहर के मुख्य बाजार दोपहिया वाहनों से अटे रहते हैं, जिससे आमजन परेशान हैं। लोगों का कहना है कि शहर में पार्किंग स्थल विकसित होने के बाद भी इस समस्या का समाधान हो सकेगा, जिसके लिए जिला प्रशासन को पहल करने की आवश्यकता है।
पत्रिका अभियान : प्रस्तावों को मिले हरी झण्डी तो शहरवासियों को मिले राहत
पत्रिका अभियान : प्रस्तावों को मिले हरी झण्डी तो शहरवासियों को मिले राहत

गौरतलब है कि आमजन की इस बड़ी समस्या के समाधान के लिए गत वर्ष तत्कालीन जिला कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने रुचि दर्शाते हुए इस दिशा में कार्य किया था। सूत्र बताते हैं कि तत्कालीन कलक्टर ने यहां हिण्डौन गेट के समीप नजूल सम्पत्ति हवेली को पार्किंग के लिए उपयुक्त मानते हुए राज्य सरकार को प्रस्ताव भी भिजवाए थे। जिसमें बताया गया था कि नजूल सम्पत्ति वर्ष 2008 से अनुपयोगी एवं जीर्ण-शीर्ण अवस्था मे है। इस हवली का सार्वजनिक निर्माण विभाग अभियंताओं ने भी निरीक्षण किया था। प्रस्ताव में बताया गया था कि उक्त भूमि हवेली करौली में घनी आबादी में स्थित होने के कारण सार्वजनिक पार्किंग के लिए उपयुक्त है। उक्त नजूल सम्पत्ति को स्थानीय नगरपरिषद अस्थाई रूप से पार्किंग के लिए उपयोग में लिया जाना उचित रहेगा। नगरपरिषद द्वारा पार्किंग स्थल के रूप में इसे विकसित किया जा सकता है।
परिषद ने भी जताई थी सहमति
सूत्र बताते हैं कि जिला प्रशासन की ओर से भेजे गए इस प्रस्ताव में नगरपरिषद की ओर से भी सहमति जताई गई थी। प्रस्ताव में उक्त नजूल सम्पत्ति को अस्थाई रूप से नगरपरिषद करौली को हस्तान्तरण करने की स्वीकृति चाही गई थी। लेकिन प्रस्तावों को अब तक स्वीकृति नहीं मिली है। सूत्र बताते हैं कि अगर जिला प्रशासन फिर से इस प्रक्रिया को आगे बढ़ाए तो शहर में पार्किंग की आ रही समस्या का समाधान हो सकता है।
नई सब्जी मण्डी में भी हुई थी कवायद
सूत्र बताते हैं कि इसके साथ ही प्रशासन और नगरपरिषद की ओर से यहां चिकित्सालय के समीप नई सब्जी मण्डी में भी भू-तल तैयार कर पार्किंग के रूप में विकसित करने की भी कवायद की गई। इस प्लानिंग के तहत नीचे पार्किंग बनाकर ऊपर दुकानें तैयार करने की मंशा थी। इससे शहर को पार्किंग स्थल तो मिलता ही। साथ ही सब्जी मंडी भी व्यवस्थित होती और मण्डी के पीछे की कॉलोनियों के रास्ते की समस्या से भी निजात मिलती। फिलहाल सब्जी मण्डी में अव्यवस्थित तरीके से दुकान-ठेले लगने और कीचड़-गंदगी के कारण आवागमन सुगम नहीं है। इसके साथ ही उस दौरान बड़ा बाजार में राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के पीछे भी पार्किंग के लिए कवायद की गई थी। इस जगह पर पहले भी पार्किंग का संचालन हुआ था।
इनका कहना है..............
पार्किंग स्थल विकसित करने के लिए हिण्डौन गेट के समीप नजूल सम्पत्ति हवेली के प्रस्ताव जिला प्रशासन की ओर से राज्य सरकार को भिजवाए जा चुके हैं। अभी उसकी स्वीकृति नहीं मिली है। जबकि नई सब्जी मण्डी में पार्किंग स्थल विकसित करने और मण्डी को बेहतर तरीके से व्यवस्थित करने के लिए डीपीआर तैयार कराई जा रही है। मदनमोहनजी मंदिर के समीप एक पार्किंग स्थल का संचालन हो रहा है।
नरसीलाल मीना, आयुक्त नगरपरिषद, करौली

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Gyanvapi Masjid Case: ज्ञानवापी में शिवलिंग के दावे के बीच आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई, वाराणसी सिविल कोर्ट में 23 मई कोExclusive: ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट मेंGood News: AIIMS दिल्ली में अब 300 रुपए तक के टेस्ट होंगे मुफ्तIPL 2022, RCB vs GT: Virat Kohli का तूफान, RCB ने जीता मुकाबला, प्लेऑफ की उम्मीदों को लगे पंखBRICS Summit: ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन में शामिल हुए भारत के विदेश मंत्री जयशंकर ने उठाया आतंकवाद का मुद्दाअफगानिस्तान में तालिबान का नया फरमान- महिला टीवी एंकर चेहरा ढककर पढ़ें खबरअमेरिकी राष्ट्रपति Biden के लिए महाराष्ट्र और आंध्र से गिफ्ट में जाएंगे आमसीएम मान ने अमित शाह से मुलाकात के बाद कहा-पंजाब में तैनात होंगे 2,000 और सुरक्षाकर्मी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.