scriptMunicipal council is not listening to electricity corporation, PWD off | नगरपरिषद सुन रही ना बिजली निगम, पीडब्ल्यूडी अधिकारी बने हैं मूकदर्शक... | Patrika News

नगरपरिषद सुन रही ना बिजली निगम, पीडब्ल्यूडी अधिकारी बने हैं मूकदर्शक...

Municipal council is not listening to electricity corporation, PWD officers have become mute spectators...


अतिक्रमण और पोल शिफ्टिंग की आड़ में अटका झारेडा रोड़ की सड़क का निर्माण

करौली

Published: January 17, 2022 11:45:27 pm


हिण्डौनसिटी. क्षेत्र के करीब 100 से ज्यादा गांवों को उपखंड मुख्यालय से जोडऩे वाले झारेड़ा मार्ग पर सड़क निर्माण की आस लगाए बैठे लोगों की उम्मीदों पर नगरपरिषद प्रशासन और बिजली निगम के अभियंता पानी फेरने में लगे हैं। वहीं पीडब्ल्यूडी के जिम्मेदार मूकदर्शक बने हुए हैं। सरकारी महकमों में आपसी सामंजस्य नहीं होने के कारण न तो अतिक्रमण ही हट पाए है, और न ही सड़क सीमा में आ रहे बिजली के पोल स्थानांतरित किए जा सके हैं। यही वजह है कि संवेदक ने सड़क का निर्माण बंद कर दिया है।
 नगरपरिषद सुन रही ना बिजली निगम, पीडब्ल्यूडी अधिकारी बने हैं मूकदर्शक...
नगरपरिषद सुन रही ना बिजली निगम, पीडब्ल्यूडी अधिकारी बने हैं मूकदर्शक...

दरअसल शहर की आदर्श होटल पुलिया से झारेडा गांव तक 6 किलोमीटर लम्बाई में सड़क का निर्माण होना है। इसके लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग खण्ड हिण्डौन की ओर से संवेदक बबलू सिंह क्यारदा के नाम 6 सितम्बर 2021 को कार्यादेश जारी किए गए। संवेदक ने 15 सितम्बर से सड़क निर्माण कार्य आरंभ कर दिया। लेकिन सड़क सीमा में हो रहे अतिक्रमणों को हटाने और बिजली के खंभों को हटाकर एक तरफ स्थानांतरित करने को लेकर नगरपरिषद प्रशासन व विद्युत निगम के अभियंताओं ने रुचि नहीं दिखाई। ऐसे में सड़क का निर्माण अधर में अटक गया है। निविदा की शर्तों के अनुसार संवेदक को सड़क निर्माण 14 फरवरी 2022 तक पूरा करना है। लेकिन सिस्टम की उदासीनता को देखते हुए शेष बची एक माह की कार्यावधि में तो क्या, तीन माह में भी सड़क का निर्माण पूरा होने की उम्मीद करना बेकार है।

ये है सड़क का तकमीना-
पीडब्ल्यूडी विभाग के सूत्रों के अनुसार झारेडा मार्ग पर पहले लगभग 3 मीटर चौड़ी सड़क थी, लेकिन अब इस सड़क की चौडाई बढ़ाकर साढ़े 5 मीटर कर दी गई है। इसके अलावा दोनों तरफ 1-1 मीटर की जीएसबी पटरी (ग्रेवल फुटपाथ) भी बनाई जानी है। निविदा के मुताबिक 5 किलोमीटर लम्बाई में डामर सड़क और 1 किलोमीटर लम्बाई में सीसी सड़क का निर्माण कराया जाएगा। यही नहीं झारेडा गांव की तरफ सीसी सड़क के फुटपाथ पर इंटरलोकिंग टाईल्स भी लगवाई जाएंगी।

50 प्रतिशत भी नहीं हुआ काम-
फिलहाल ही स्थिति में सड़क का कार्य 50 प्रतिशत भी पूरा नहीं हुआ है। झारेडा रोड बाइपास से गांधी एकेडमी स्कूल के पुराने भवन तक मिट्टी और मोरम की परतें बिछाई गई है। दूसरी ओर झारेडा फाटक से झारेडा गांव तक सड़क के चौडाईकरण के लिए साफ-सफाई कार्य किया गया है। आदर्श होटल की पुलिया की तरफ सड़क सीमा में अतिक्रमण और बिजली पोल शिफ्ट नहीं होने के कारण पीडब्ल्यूडी अधिकारियों के कहने पर संवेदक ने 325 मीटर सड़क का निर्माण कार्य रोक दिया है। दूसरी तरफ सीवरेज निर्माण कार्य कर रही एलएण्डटी कंपनी भी कोढ़ में खाज का काम कर रही है। कंपनी के कार्मिकों ने सीवर लाइन डालने के लिए संवेदक द्वारा तैयार की गई ग्रेवल सड़क को जेसीबी से कई स्थानों पर खोद दिया गया है।

20.56 प्रतिशत बिलो रेट का टेंडर-
विभागीय सूत्रों के अनुसार आरआइडीएफ के तहत झारेडा रोड पर सड़क निर्माण के लिए सरकार की ओर से कुल 2 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए थे। ऑनलाइन हुई टेंडर प्रक्रिया में संवेदक बबलू सिंह क्यारदा के नाम 20.56 प्रतिशत बिलो(न्यून) दर तक निविदा खुली। जिसके बाद पीडब्ल्यूडी ने 6 सितम्बर को 1 करोड 35 लाख 85 हजार रुपए की निविदा के कार्यादेश जारी कर दिए। स्थानीय लोगों का कहना है कि संवेदक द्वारा सड़क निर्माण में गुणवत्ताहीन सामग्री उपयोग ली जा रही है। जिसको लेकर विभाग के स्थानीय अभियंताओं से लेकर सार्वजनिक निर्माण विभाग के मंत्री तक को शिकायतें भेजी गई है। इधर जानकारों का कहना है कि अगर 20 प्रतिशत से ज्यादा बिलो रेट पर संवेदक ने सड़क निर्माण का जिम्मा उठाया है, तो घटिया निर्माण की आशंका से इंकार कतई नहीं किया जा सकता।

इनका कहना है-
सड़क निर्माण में गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। फिर भी लोगों को शिकायत है तो जांच करवा कार्रवाई की जाएगी। दूसरी तरफ नगरपरिषद व बिजली निगम की ओर से अतिक्रमण हटाने व पोल स्थानांतरित करने में देरी की वजह से सड़क का काम अटका हुआ है।
-शिवकेश मीणा, अधिशासी अभियंता,
सार्वजनिक निर्माण विभाग, खण्ड-हिण्डौनसिटी।
 नगरपरिषद सुन रही ना बिजली निगम, पीडब्ल्यूडी अधिकारी बने हैं मूकदर्शक...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

30 साल बाद फ्रांस को फिर से मिली महिला पीएम, राष्ट्रपति मैक्रों ने श्रम मंत्री एलिजाबेथ बोर्न को नया पीएम किया नियुक्तदिल्ली में जारी आग का तांडव! मुंडका के बाद नरेला की चप्पल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, मौके पर पहुंची 9 दमकल गाडि़यांबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनSri Lanka में अब तक का सबसे बड़ा संकट, केवल एक दिन का बचा है पेट्रोलIAS अधिकारी ने भारत की थॉमस कप जीत पर मच्छर रोधी रैकेट की शेयर की तस्वीर, क्रिकेटर ने लगाई फटकार - 'ये तो है सरासर अपमान'ताजमहल के बंद 22 कमरों का खुल गया सीक्रेट, ASI ने फोटो जारी करते हुए बताई गंभीर बातेंकर्नाटक: हथियारों के साथ बजरंग दल कार्यकर्ताओं के ट्रेनिंग कैम्प की फोटोज वायरल, कांग्रेस ने उठाए सवालPM Modi Nepal Visit : नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं, नेपाल दौरे पर बोले पीएम मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.