हिण्डौन में बनेगा नया औद्योगिक क्षेत्र, उद्योगों का होगा विकास

New industrial area will be built in Hindaun, industries will develop

रीको की टीम ने तेली की पंसेरी के पास देखी जमीन, भूमि उपयुक्तता का किया निरीक्षण

By: Anil dattatrey

Updated: 17 Sep 2020, 11:45 PM IST


हिण्डौनसिटी. जिले में औद्योगिक विकास को गति देेेने के लिए हिण्डौन में रीको एक और औद्योगिक क्षेत्र के विकसित करेगी। इसके लिए गुरुवार को जयपुर से आए रीको के विशेषाधिकारी(भूमि) सहित रीको व राजस्व विभाग के अधिकारियों ने तेली की पंसेरी के पास आवाप्ति के लिए भूमि का निरीक्षण कर उपयुक्तता देखी। समिति द्वारा जांच रिपोर्ट रीको मुख्यालय में पेश की जाएगी।


रीको अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री की बजट घोषणा के तहत हिण्डौनसिटी में नए औद्योगिक क्षेत्र विकसित किया जाना है। इसके लिए भूमि निरीक्षण एवं उपयुक्तता के संबंध में रीको द्वारा गठित टीम द्वारा दोपहर रीको मुख्यालय जयपुर के विशेषाधिकारी (भूमि) शेरसिंह लुहाडिय़ा के साथ तेली की पंसेरी के पास ग्राम चमरपुरा पहुंची। जहां 78.78 हैक्टेयर गैर मुमकिन चरागाह भूमि एवं पूर्व में प्रस्तावित भूमि की उपयुक्तता के संबंध में स्थल समिति द्वारा भूमि का मौका निरीक्षण किया गया।

लुहाडिय़ा ने बताया समिति द्वारा तैयार की गई निरीक्षण रिपोर्ट को मुख्यालय में पेश किया जाएगा। इसके बाद नया औद्योगिक क्षेत्र खोलने की प्रक्रिया आगे बढ़ सकेगी। हिण्डौन में नया औद्योगिक क्षेत्र खुलने से औद्योगिक दृष्टि से पिछड़े करौली जिले में उद्यमियों को निवेश एवं रोजगार सृजन से विकास के नए आयाम स्थापित होंगे। इस दौरान रीको जयपुर के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक राजेश जैन,सवाईमाधोपुर के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक बी.एल.मीना, करौली जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक के.के. मीना एसडीओ सुरेश कुमार यादव, तहसीलदार रामकरण मीणा, रीको हिण्डौन के क्षेत्रीय प्रबंधक महेश मीना सहित राजस्व विभाग के कर्मचारी मौजूद रहे।


भूमि पर हैं आंशिक अतिक्रमण-
करौली रोड से तीन किलोमीटर दूर स्थित रीको की प्रस्तावित भूमि पर मौके पर आंशिक अतिक्रमण होना पाया। राजस्व विभाग के अधिकारियों ने अतिक्रमण को जल्द हटाने की बात कही। निरीक्षण टीम के सदस्यों ने बताया कि प्रस्तावित भूमि पर करीब आधा दर्जन आवासीय मकान बने हैं। वहीं कु छ स्थानों पर फसल बो कर अतिक्रमण किया हुआ है।

औद्योगिक क्षेत्र फुल, अब नए स्थान पर होगा आवंटन-
रीको को क्षेत्रीय प्रबंधक महेश चंद मीणा ने बताया कि वर्ष 1984 में महवा रोड पर शुरू हुए औद्योगिक क्षेत्र में सभी भूखंड आबंटित हो चुके हैं। हालांकि कुछ इकाईयां बंद हैं। हिण्डौन में करीब 250 औद्योगिक भूखण्ड हैं। रीको क्षेत्र में में 150 में से 145 व आईआईडी सेंटर में 100 में से 80 पर यूनिट संचालित हैं। वहीं करौली में 70 यूनिटों में से 50 संचालित हैं।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned