अब राजस्थान के बेरोजगार करेंगे दिल्ली कूच: राज्य सरकार ने मांगें नहीं मानी तो कांग्रेस आलाकमान को खुद बताएंगे समस्या


Now Rajasthan's unemployed will travel to Delhi: If the state government does not accept the demands, then the Congress will tell the high command the problem itself

जल्द पूरी हों लंबित भर्तियां, बेरोजगारों को मिले नौकरी,युवा संवाद कार्यक्रम में बोले बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव

By: Anil dattatrey

Published: 11 Jan 2021, 10:37 AM IST

हिण्डौनसिटी. राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव युवा बेरोजगार संवाद कार्यक्रम के तहत रविवार को हिण्डौन पहुंचे। जहां उन्होंने बयाना रोड पर जाट की सराय स्थित महाराजा सूरजमल स्टेडियम में क्षेत्र के बेरोजगार युवाओं को संबोधित किया। यादव ने विभिन्न भर्तियों को जल्द पूरा कर बेरोजगारों को राहत प्रदान करने के साथ ही अधीनस्थ कर्मचारी आयोग के चैयरमेन को पद से हटाने की मांग की।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने उनकी मांगों को गंभीरता से नहीं लिया तो फरवरी में माह में कांग्रेस आलाकमान को अवगतक कराने के लिए 10 हजार युवा बेरोजगारों के साथ दिल्ली कूच किया जाएगा।


यादव ने कहा कि राज्य सरकार ने जनवरी महीने में बेरोजगारों की मांगों पर पर ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने 2013 से लंबित एएनएम, जीएनएम नर्सिंग भर्ती, पंचायत राज एलडीसी भर्ती, विद्यालय सहायक भर्ती, आयुर्वेद नर्सिंग भर्ती सहित तमाम लंबित भर्तियों को जल्द से जल्द पूरा करने की मांग की।

साथ ही ऊर्जा विभाग में 9000 पदों पर टेक्निकल हेल्पर एवं अन्य भर्तियों की विज्ञप्ति जारी करने की मांग की। संवाद कार्यक्रम में क्षेत्र के युवा बेरोजगारों ने जाट समाज के युवा जिलाध्यक्ष करतार सिंह चौधरी के नेतृत्व में स्वागत किया। इस दौरान प्रशांत चौधरी, मनीष सिंह, श्याम शुक्ला, दिलीप सोलंकी, पुष्पेन्द्र चौधरी, अरविंद सोलंकी आदि मौजूद रहे।

जेईएन भर्ती का परिणाम जारी कराने की मांग-
बैठक के दौरान सिविल डिप्लोमा जेईएन भर्ती परीक्षा की आंसर-की व परिणाम जारी कराने की मांग को लेकर परीक्षार्थियों ने प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव को ज्ञापन सौंपा।
अलीपुरा निवासी कृष्णराज नीमरोठ, अनूप मीणा ने बताया कि 6 दिसम्बर 2020 को जेईएन सिविल डिप्लोमा परीक्षा आयोजित हुई। लेकिन एक माह बाद भी आंसर-की जारी नहीं की गई। जबकि नियमानुसार परीक्षा होने के सात दिन के भीतर आंसर-की जारी होनी चाहिए। आरोप है कि कई बार कर्मचारी चयन बोर्ड के अध्यक्ष बीएल जाटावत को ज्ञापन दिया गया, लेकिन अभी तक आंसर-की जारी नहीं हो पाई।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned