गोपाल सब्जी मंडी में लोग घूमते हैं बेखौफ, कोरोना का नहीं कोई डर

People walk in Gopal Sabzi Mandi without fear, no fear of Corona

कोविड़ गाइडलाइन की नहीं हो रही पालना, मंडी व प्रशासनिक अधिकारी बने हुए हैं अनजान

By: Anil dattatrey

Published: 18 Sep 2020, 09:40 AM IST


हिण्डौनसिटी. उपखंड मुख्यालय पर ब्राह्मण धर्मशाला के पीछ़ संचालित गोपाल सब्जी मंडी में कोरोना को लेकर किसी प्रकार का भय दिखाई नहीं दे रहा है। जबकि शहर समेत जिलेभर में कोरोना पॉजेटिव मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। मंडी में हर रोज थोक के कारोबार के दौरान दूसरे शहरों के सब्जी व्यापारी, मंडी व्यापारी व खरीदारों के समेत 500 से अधिक लोग जुटते हैं। आदतों में सुधार नही किया गया तो क्षेत्र में कभी भी कोरोना का बड़ा विस्फोट हो सकता है।
सब्जी मंडी में थोक का कारोबार होता है। यहां सुबह 6 बजे से 8 बजे तक बोली लगाकर सब्जी खरीदी एवं बेची जाती है। इस दौरान स्थानीय सहित आस-पास के दर्जनों गांवों के करीब 500 से अधिक लोग एकत्रित होते हैं। लेकिन इस दौरान कोरोना को लेकर किसी प्रकार की गाइडलाइन की पालना नहीं होती। जबकि शहर में प्रतिदिन कोविड़ मरीज सामने आ रहें हैं। इसके बाद भी न तो सब्जी विक्रेताओं में भय दिखाई देता है न ही खरीदारों में। उपखंड प्रशासन व कृषि उपज मंडी समिति प्रशासन भी यह सब जानकर भी अनजान बना हुआ है।

जयपुर, गंगापुर व बयाना से भी आती हैं सब्जियां-
सब्जी मंडी में रोजाना किसानों के अलावा जयपुर, गंगापुर व बयाना की बड़ी मंडियों से सब्जी की आवक होती है। सुबह किसानों द्वारा मंडी में आढ़त पर सब्जी लाने के दौरान खूब भीड़ रहती है। गांवों के सब्जी विक्रेता यहां थोक के भाव सब्जी खरीदने के लिए आते है। कई अन्य गांवो के लोग सब्जी बेचने आते है।

मास्क न सोशल डिस्टेसिंग का पालन-
सब्जी मंडी में रोजाना सुबह के समय 500 से अधिक लोग एकत्रित होते हैं इस दौरान मंडी में कोरोना गाइडलाइन की किसी प्रकार से पालना नहीं होती। न तो लोगों के चेहरों पर मास्क रहता है न ही सोशल डिस्टेंसिंग की पालना। ऐसे में यहां संक्रमण का अंदेशा बना रहता है।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned