वन विभाग के दफ्तर के सामने पुलिस की होगी कड़ी चौकसी बनेगा थाने का भवन

Police will have strict vigil in front of Forest Department office, police station building will be built.

पट्टीनारायणपुर में छह बीघा भूमि में बनेगा नई मंडी थाना भवन

राजस्व विभाग ने की जमीन चिह्नित, आवंटन के भेजे प्रस्ताव

By: Anil dattatrey

Published: 07 Mar 2020, 01:12 PM IST

हिण्डौनसिटी. नई मण्डी थाने के कार्यक्षेत्र में बढ़ोतरी किए जाने के बाद पुलिस और प्रशासन ने अब थाने के भवन के लिए उपयुक्त स्थान भी तलाश लिया है। अगर सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही नई मण्डी थाना महवा रोड़ पर वन विभाग के रेंज कार्यालय के सामने संचालित होने लगेगा। इसके लिए पुलिस ने राजस्व विभाग के सहयोग से रेवई पंचायत के पट्टी नारायणपुर गांव में छह बीघा से ज्यादा जमीन को चिह्नित कर लिया है। शुक्रवार को थाना प्रभारी रामरूप मीणा ने हल्का पटवारी अजय बेनीवाल के साथ मौके पर पहुंच भूमि का अवलोकन किया। थाना प्रभारी ने भूमि आवंटन के लिए उपजिला कलक्टर सुरेश यादव को प्रस्ताव भिजवाया है।

शहर में बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक की अनुशंसा पर राज्य सरकार के गृह विभाग द्वारा 1 सितम्बर 2018 को कोतवाली थाने से कुछ क्षत्र अलग कर नई मंडी थाने की स्थापना की गई थी। गत 20 फरवरी को ही गृह विभाग की मंजूरी के बाद एसपी अनिल बेनीवाल ने हिण्डौन कोतवाली थाना व हिण्डौन सदर थाने के कार्यक्षैत्र में आ रही दर्जनों कॉलोनियों और गांवों को नई मंडी थाने के कार्यक्षैत्र में शामिल किया था। कार्यक्षेत्र बढऩे से उत्साहित पुलिस कर्मियों ने बीते एक पखवाड़े में कई अवैध हथियार तस्कर व स्मैक तस्करों को गिरफ्तार करने के अलावा कई बड़ी कार्रवाईयों को अंजाम दिया है।

थाना भवन के अलावा बन सकेंगे पुलिसकर्मियों के आवास

रेवई पंचायात के हल्का पटवारी अजय बेनीवाल ने बताया कि पट्टी नारायणपुर में वन विभाग के रेंज कार्यालय के सामने क्यारदा बांध के समीप स्थित चारागाह भूमि के खसरा नंबर 645 में एक हैक्टेयर, खसरा नंबर 700 में 10 एयर व खसरा नंबर 701 में 41 एयर भूमि (कुल सवा छह बीघा) को नई मंडी थाने के लिए चिह्नित किया है। इस उपयुक्त भूमि पर थाने के भवन के अलावा पुलिस कर्मियों के आवास बन सकेंगे।

चौकी के भवन में चल रहा पुलिस थाना

दरअसल जिस भवन में फिलहाल नई मंडी थाना संचालित हो रहा है। वह कभी नई मंडी पुलिस चौकी का भवन हुआ करता था, लेकिन वर्ष 2018 में सरकार ने नई मंडी चौकी को क्रमोन्नत कर थाना बना दिया। हालांकि क्रमोन्नति के बाद परिसर में बैरक, मैस व एक हॉल के अलावा शौचालयों का निर्माण तो जनसहयोग से करा दिया गया। लेकिन थाना प्रभारी व पदस्थापित पुलिस कर्मियों के लिए आवास नहीं होने से उन्हें किराए के मकान में रहना पड़ रहा है। इतना ही नहीं पुलिस द्वारा जब्त किए गए सामान को रखने और वाहनों को खड़ा करने के लिए स्थान का अभाव अखरता है। मजबूरन जब्त वाहनों को स्टेशन रोड पर खड़ा करना पड़ता है। जिससे थाने के सामने ही हादसों का अंदेशा बना रहता है।

अखरता है जगह का अभाव
फिलहाल थाना परिसर में जगह का अभाव अखरता है। जब्त किए वाहनों को सडक़ पर खड़ा करना पड़ता है। आवास भी नहीं है। पट्टी नारायणपुर में चिन्हित भूमि के आवंटन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद निर्माण की कार्रवाई भी शुरु कराई जाएगी।

रामरूप मीना, थानाप्रभारी, नई मंडी थाना, हिण्डौनसिटी।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned