scriptPower cut in the scorching heat, the people of the district lost their | प्रचंड गर्मी में बिजली कटौती, जिले वासियों की उड़ी नींद, छिना चैन | Patrika News

प्रचंड गर्मी में बिजली कटौती, जिले वासियों की उड़ी नींद, छिना चैन

Power cut in the scorching heat, the people of the district lost their sleep, lost their peaceग्रामीण इलाकों में बमुश्किल मिल रही 5-7 घंटे की बिजली आपूर्ति

शहरी क्षेत्र में सुबह-शाम 6 से 8 घंटे तक हो रही बिजली कटौती

करौली

Updated: April 30, 2022 12:08:58 pm

हिण्डौनसिटी. प्रदेश की सरकार एक तरफ बिलों में राहत दे बिजली आपूर्ति व्यवस्था को अपनी उपलब्धियों में गिना रही है, वहीं दूसरी ओर गर्मी के बढ़ते ही बिजली करौली जिले वासियों के लिए बैरन बनती जा रही है। सबसे ज्यादा खराब हालत ग्रामीण इलाकों में हैं। जहां 24 घंटे में से महज 5-7 घंटे ही बिजली आपूर्ति हो रही है, वह भी किस्तों में। कमोबेश ऐसे ही हाल शहरी क्षेत्रों में भी हैं। जहां लोड कम करने एवं फाल्ट ठीक करने के नाम पर दिन भर बिजली की आवाजाही ने लोगों का सुख-चैन छीन रखा है। प्रचंड होती गर्मी के बीच जिले के करौली शहर, करौली ग्रामीण, मंडरायल, सपोटरा, श्रीमहावीरजी, हिण्डौन शहर, हिण्डौन ग्रामीण, नांगल शेरपुर, टोडाभीम और नादौती सब डिवीजन के शहरी एवं ग्रामीण इलाकोंं में बिजली संकट धीरे धीरे गहराने लगा है।
 प्रचंड गर्मी में बिजली कटौती, जिले वासियों की उड़ी नींद, छिना चैन
प्रचंड गर्मी में बिजली कटौती, जिले वासियों की उड़ी नींद, छिना चैन

अप्रेल का महीना खत्म होने वाला है, और सूरज ने कड़े तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। लोग लू के थपेड़ों से बचने के लिए घर के अंदर ज्यादा समय बिताना चाहते हैं, लेकिन यहां भी उनके लिए मुश्किलें कम नहीं हैं। बिजली कटौती या अन्य तकनीकी समस्या के चलते कूलर-एसी शोपीस बनकर रह गए हैं। हालांकि निगम द्वारा तहसील मुख्यालयों व ग्रामीण इलाकों में 15 से 16 घंटे बिजली देने का दावा किया जा रहा है। लेकिन हकीकत में कोयले की कमी के कारण उत्पादन इकाईयों के ठप होने से निगम के पास गर्मी में बिजली कटौती के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है। लोड़ सेडिंग कर बिजली की खपत कम करने की वजह से ग्रामीण ही नहीं बल्कि शहरी क्षेत्रों में भी लगातार आपूर्ति गडबड़ाती जा रही है। जिससे भीषण गर्मी में पेयजल किल्लत बढऩे लगी है। गावों में भी पूरे दिनभर ही बिजली गायब रहने लगी है। रात के समय भी लगातार बिजली आपूर्ति नहीं होने से लोगों की नींद ***** हो रही है। बिजली कटौती से कुटीर उद्योग हों या फिर छोटे कारोबारी, सब का रोजगार चौपट होता जा रहा है।
31 प्रतिशत तक बढ़ी डिमांड-
निगम सूत्रों की मानें तो कोयला संकट के कारण पूरे प्रदेश में बिजली आपूर्ति पर बुरा प्रभाव पड़ा है। गर्मी के मौसम में राज्य में बिजली की मांग में करीब 31 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। वहीं कोयले की आपूर्ति घट गई है। यही कारण है कि बिजली कटौती में इजाफा हो रहा है। जिससे लोगों की परेशानी बढ़ रही है। बिजली उत्पादन के लिए राज्य में प्रतिदिन 27 रैक कोयला की जरूरत होती है, जबकि इन दिनों 18 से 20 रैक ही मिल पा रहे हैं।
आगे भी जारी रह सकती है कटौती
भीषण गर्मी का यह दौर मई-जून तक जारी रहेगा। ऐसे में यह मानकर चलना चाहिए कि बिजली कटौती का खेल आगामी दो माह तक जारी रहेगा। इसके बाद भी गर्मी रंग दिखाएगी तो कटौती को आगे भी जारी रखा जा सकता है। इसमें ग्रामीण इलाकों को ज्यादा परेशानी का सामना करना होगा। क्योंकि 5-6 घंटे बिजली कटौती की बात करने वाले निगम के जिम्मेदार अभियंता ग्रामीण इलाकों में मनमर्जी से 15 से 16 घंटे तक कटौती करते हैं। और जानकारी मांगने पर कहा जाता है कि फाल्ट के चलते बिजली बंद हुई है। (पत्रिका संवाददाता)
इनका कहना है-
जिले में शहरी व ग्रामीण इलाकों में लोड सेडिंग के लिए आवश्यकतानुसार बिजली कटौती की जा रही है। उत्पादन इकाइयों में कोयले की कमी के कारण बिजली की आपूर्ति गडबडाई है। सुधार होते ही उपभोक्ताओं को निर्बाध बिजली आपूर्ति कर राहत प्रदान की जाएगी।
-आरसी शर्मा, अधीक्षण अभियंता, विद्युत निगम, करौली।
फेक्ट फाईल
जिले में करौली और हिण्डौन डिवीजन हैं जेवीवीएनएल के।
जिले में 10 सब डिवीजन हैं करौली जिले में।
जिले में कुल 2 लाख 56 हजार 423 बिजली उपभोक्ता हैं।
जिले में कुल 806 लाख यूनिट बिजली की खपत होती है प्रतिदिन।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.