मुंह ढककर आए समाजकंटकों ने की बाजार में ताबड़तोड़ पत्थरबाजी, पिटाई के बाद दुकानदारों ने बंद से जताया विरोध


कभी चंबल के डाकूओं के आतंक से भय के साए में रहता था ये शहर...

By: Vijay ram

Published: 07 Jun 2018, 07:58 PM IST

करौली/नानपुर/करणपुर.
यहां करणपुर के बाजार में कुछ समाजकंटकों ने ताबड़तोड़ पत्थरबाजी करते हुए अचानक दुकानदारों पर हमला बोल दिया। मुंह ढककर कई को पीटा और फिर भाग निकले...

 

संवाददाता के अनुसार, वारदात में पहले पीड़ित गर्ग मेडिकल के गौरव कुमार थे, रात्रि में अचानक कई पत्थर उनकी दुकान में आकर गिरे। सुबह होते होते कई जगहों पर पत्थरबाजी हुई और कई दुकानदार चाेटिल हो गए। जिसका व्यापारियों ने बाजार बंद रखकर विरोध जताया।

 

अभी यहां भाजपा मण्डल अध्यक्ष रूपचंद मित्तल के नेतृत्व में सर्व समाज के लोगों की बैठक हुई। बैठक में करणपुर के पूर्व सरपंच रामप्रसाद मीना ने कहा कि समाजकंटकों के खिलाफ सत कार्रवाई होनी चाहिए। ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

 

बैठक में पीडि़त दुकानदारों ने बताया कि मारपीट करने वाले एक आरोपित के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करा दी है। दूसरे आरोपित की पहचान नहीं हो सकी क्योंकि उसने मुंह ढक रखा था।बैठक के बाद कस्बे के लोग थानाधिकारी हरीसिंह मीना से मिले। थानाधिकारी ने आरोपितों की जल्द ही गिरतारी करने का आश्वासन दिया।

 

वहीं आरोपितों के कहीं दिखाई देने पर तुरन्त पुलिस को सूचना देने की बात कही। इस दौरान भाजपा मण्डल अध्यक्ष रूपचंद मित्तल, पूर्व सरपंच रामप्रसाद मीना, रमेशचंद गुप्ता, दामोदर महाजन, मोहनलाल गुप्ता आदि मौजूद रहे।

 

ज्यादातर आबादी संकरे हिस्से में
शहर की ज्यादातर आबादी शहर के संकरे हिस्से में हिस्से में बसी है। आबादी क्षेत्र तक पहुंचने के लिए शहर में बेहद संकरे रास्ते हैं। कई जगह तो महज तीन से चार फीट के रास्ते ही हैं। ऐसे में यहां अग्निशमन का पहुंचना संभव नहीं हो पाता। यदि ऐसे स्थानों पर आगजनी की घटना होती है तो नगरपरिषद प्रशासन खड़ा रह जाता है। इसका समाधान अब नगरपरिषद ने बाइक दमकल के रूप में खोजा है। बेहद छोटे रास्तों के लिए परिषद बाइक पर लगे दमकल सिस्टम से आग पर काबू पाएगी।


भोपाल से आएंगी बाइक दमकल
नगरपरिषद प्रशासन का कहना है कि बाइक दमकल के संबंध में जानकारी जुटाई गई है। तंग गलियों के लिए बनने वाली बाइक दमकल का प्रोडक्शन मध्यप्रदेश के भोपाल शहर में होता है। इसके लिए वहां बातचीत भी की गई है। करौली शहर के लिए पांच बाइकों की व्यवस्था की जा रही है। अब तक बाइक दमकलों की व्यवस्था प्रदेश की राजधानी के अलावा उदयपुर सरीखे बड़े शहरों में ही है।


इनका कहना है
शहर की गलियां खासी संकरी हैं। ऐसे में नगरपरिषद यहां बाइक दमकल मंगाने की तैयारी में जुटी है। शहर की आबादी के लिहाज से यहां पांच बाइक दमकल मंगाई जाएंगी। ऐसी बाइकों का प्रोडक्शन भोपाल में होता है। इसकी जानकारी जुटाई गई है। जल्द ही शहर के लिए बाइक दमकल की व्यवस्था कर दी जाएगी।
- विजय प्रताप सिंह, आयुक्त नगरपरिषद करौली

Vijay ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned