राज्य सरकार भले ही 24 घंटे बिजली आपूर्ति के दावे करती हो, लेकिन यहां हाल हैं ऐसे कि लोग रोज पसीने-पसीने हो जाते हैं

राज्य सरकार भले ही 24 घंटे बिजली आपूर्ति के दावे करती हो, लेकिन यहां हाल हैं ऐसे कि लोग रोज पसीने-पसीने हो जाते हैं

Vijay ram | Publish: Jul, 14 2018 01:18:01 AM (IST) Karauli, Rajasthan, India


आए दिन बिजली की अघोषित कटौती के चलते परेशानी का सामना करना पड़ रहा ...

 

करौली.
राज्य सरकार भले ही 24 घंटे बिजली आपूर्ति के दावे करती हो, लेकिन उपखंड क्षेत्र में सरकार के इन दावों के विपरीत इस भीषण गर्मी के दौर में लोगों को बिजली की अघोषित कटौती के चलते परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

 

भीषण गर्मी में बिना पंखे-कूलर लोग पसीने-पसीने हो रहे हैं, लेकिन विद्युत निगम के अधिकारी इस समस्या के प्रति गंभीर नजर नहीं आ रहे।

 

इन दिनों कस्बे सहित ग्रामीण क्षेत्रों में अघोषित विद्युत कटौती से ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बिजली की अघोषित कटौती के चलते लोगों को पेयजल समस्या से भी जूझना पड़ रहा है। अपर्याप्त विद्युत आपूर्ति के चलते क्षेत्र में संचालित जल योजनाएं प्रभावित हो रही हैं। इससे ग्रामीणों को पेयजल संकट भी झेलना पड़ रहा है।

ग्रामीणों ने इस संबंध में जिला कलक्टर को पत्र भेजकर ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत सप्लाई सुचारू कराए जाने की मांग की है, जबकि एक तरफ राज्य सरकार की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में 24 घ्ंांटे विद्युत आपूर्ति करने का दावा किया जा रहा है, जबकि हकीकत में टोडाभीम विद्युत ग्रिड से जुड़े ग्रामीण क्षेत्र जिंसी का पुरा, वाल का पुरा, रंगलाल का पुरा एवं जयराम का पुरा सहित कस्बे में भी विद्युत व्यवस्था अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही के चलते बदहाल होती जा रही है।

 

रात्रि के समय भी नियमित विद्युत आपूर्ति नहीं होने से रात भी अंधेरे में ही बिताने के लिए ग्रामीणों को मजबूर होना पड़ता है। नियमित विद्युत आपूर्ति के अभाव में लघु उद्योग धंधे भी प्रभावित हो रहे हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि कस्बे के विद्युत ग्रिड को संचालित करने वाले कर्मचारियों की लापरवाही के चलते ग्रामीण क्षेत्रो की विद्युत आपूर्ति बदहाल है। कार्मिक मनमर्जी करते हैं और कहने पर संतुष्टिपूर्वक जवाब नहीं देते।

 

बाराती की मौत से मातम में बदली खुशियां, जीप-ट्रैक्टर की भिड़ंत में मौत
गुढ़ाचन्द्रजी. गंगापुर सिटी सड़क मार्ग पर कैमा गांव के पास मंगलवार रात को बारात की जीप व ट्रैक्टर में भिंडत में एक जने की मौत हो गई। इससे शादी की खुशी मातम में बदल गई।

 

थानाप्रभारी राजेन्द्र शर्मा ने बताया कि सांथा तहसील महवा जिला दौसा से मंगलवार को नादौती तहसील के खूडाचैनपुर गांव में बरात आई थी। बारात की जीप व ट्रैक्टर में कैमा के पास भिंडत हो गई। इसमें बेणी राम मीणा पुत्र गिर्राज मीणा(४०) निवासी सांथा तहसील महवा गंभीर हो गया। घायल को नादौती सीएचसी पर भर्ती कराया। बेणी राम मीणा को गुढाचन्द्रजी सीएचसी पर लाया गया, जहां पर चिकित्सक बाबू लाल व केसी मीणा ने मृतक घोषित कर दिया। पुलिस ने बुधवार को पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंपा। मौत की खबर लगते ही बराती अस्पताल पहुंच गए। इससे शादी की खुशी में शोक छा गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned