हिण्डौनसिटी. अनलॉक 1.0 से पहले से शुरू हुआ लोगों की रवानगी का दौर तीसरे दिन बुधवार को भी जारी रहा। दिल्ली की ओर से जाने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस में अकेले हिण्डौनसिटी रेलवे स्टेशन से 569 यात्रियों ने सफर केे लिए रवानगी ली। ऐसे में रेलवे स्टेशन पर स्क्रीनिंग और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए तैनात लोगों के पसीने आ रहे हैं। तीन दिन के हिण्डौन से जनशताब्दी ट्रेन से डेढ़ हजार से अधिक यात्री सफर कर चुके हैं।


रेलवे सूत्रों के अनुसार कोटा-हजरत निजामुद्दीन जनशताब्दी एक्सप्रेस में आगामी सप्ताह तहत सीटें फुल चल रही है। 1900 यात्री क्षमता की ट्रेन में कोटा के बाद सर्वाधिक यात्री हिण्डौनसिटी रेलवे स्टेशन से बैठ रहे हैं। स्थिति यह है कि सुबह 7 बजे से पहले ही यात्रियों की मेडिकल स्क्रीनिंग के लिए कतार लगना शुरू हो जाता है। स्टेशन पर ठहरने वाली अन्य ट्रेनों में काफी कम यात्री सफर कर रहे हैं। बुधवार सुबह कोटा की ओर से मात्र 23 यात्री हिण्डौन उतरे थे। शाम को दिल्ली की ओर से 140 यात्री हिण्डौन आए तथा 40 यात्रियों ने कोटा की ओर रवानगी ली। स्वर्ण मंदिर मेल में 30 यात्री आए व 9 जने रवाना हुए।

यात्रियों की जा रही थर्मल स्क्रीनिंग-


रेलवे स्टेशन पर आवाजाही करने वाले यात्रियों की मेडिकल टीम द्वारा गहनता से थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके लिए स्टेशन पर12-12 घंटे की पारी में तीन सदस्यीय मेडिकल टीम लगार्ई हुई हैं। वहीं रेलवे की टीम द्वारा यात्रा पत्रक से आवाजाही करने वाले यात्रियों की रिकॉर्ड संधारित किया जा रहा है। बुधवार को डा. डीसी कोली के साथ मेलनर्स विक्रम बरसानिया व संजय मीणा ने यात्रियों की थर्मल जांच की। डॉ. कोली ने बताया कि शहर में आने वाले यात्रियों को जिला कलक्टर के बंंध पर होम क्वारंटीन किया जा रहा है।

अबध एक्सप्रेस में यात्रियों का टोटा-
रेलवे सूत्रों के अनुसार बिहार से आने वाली अबध एक्सप्रेस में दूसरे दिन भी अपेक्षकृत कम यात्री देखे गए। बिहार से ट्रेन में यात्रियों के काफी कम आने से कभी भीड से ठसाठस रहने वाली बोगियां खाली दिखने लगी हैं। हिण्डौन रेलवे स्टेशन से अबध एक्सप्रेस में सुबह 4 यात्रियों ने रवानगी ली वहीं 3 यात्री उतरे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned