फर्जी दस्तावेज से चुनाव लड़ने के मामले में राज्य सरकार ने करौली जिला प्रमुख को किया निलंबित

फर्जी दस्तावेज से चुनाव लड़ने के मामले में राज्य सरकार ने करौली जिला प्रमुख को किया निलंबित

 

By: rohit sharma

Published: 16 May 2018, 01:25 PM IST

जयपुर


राजस्थान की राजनीति में करौली जिलें में अचानक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। फर्जी दस्तावेजों के आधार पर चुनाव लडऩे के मामले में राज्य सरकार ने मंगलवार को करौली जिला प्रमुख अभय कुमार मीना को निलंबित कर दिया है। पंचायती राज विभाग ने इस बारे में शिकायत प्राप्त होने पर मामले की करौली के कलक्टर से जांच कराई।


फर्जी दस्तावेजों के आधार पर चुनाव लड़ने को लेकर पंचायतीराज विभाग को अभय कुमार मीना के विरुद्ध शिकायत मिली थी। जिसकी संभागीय आयुक्त के आदेश पर करौली जिला कलेक्टर ने शिकायत की जांच करवाई गई । जांच के दौरान प्रथमदृष्ट्या आरोप सही पाए गए। पंचायत राज विभाग के आदेश के अनुसार निलंबन काल में मीना जिला परिषद की किसी कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेंगे। करौली जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी की ओर से इस मामले में करौली थाने में मीना पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। अभय मीना कांग्रेस विधायक रमेश मीना के छोटे भाई हैं। उधर, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा है कि बिना जांच द्वेषतापूर्ण कार्रवाई की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी कानूनी प्रक्रिया अपनाएगी।



suspend order

इस मामले में CEO जिला परिषद ने प्रदेश के करौली कोतवाली थाने में जिला प्रमुख अभय मीना के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया था जिसके बाद जांच के आधार पर आरोप सही पाए गए थे। इस मामले में पुलिस द्वारा भी कोर्ट में चार्जशीट भी पेश की जा चुकी है। इस मामले को गंभीर रूप से लेते हुए राज्य सरकार ने विशेष शक्तियों का प्रयोग कर करौली जिला प्रमुख अभय कुमार मीना को निलंबित कर दिया है।

rohit sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned