मासलपुर के गदाखार पर एनिकट के लिए दिया धरना, सौंपा ज्ञापन

मासलपुर के गदाखार पर एनिकट के लिए दिया धरना

करौली जिले में मासलपुर. क्षेत्र की जीवनदायनी बहुप्रतीक्षित गदाखार पेयजल एवं सिंचाई परियोजना की मांग को लेकर गुरुवार को तहसील कार्यालय के समक्ष सर्व समाज की ओर से धरना देने के साथ मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया। धरना प्रर्दशन में बड़ापुरा, भावली, दिमनपुरा, कसारा, उपरेला, मासलपुर, छैंडकापुरा, गुबरेंडा, शुभनगर, अर्जुनपुरा व सुक्काप़ुरा सहित 11 गांवों के ग्रामीणों ने भाग लिया।

By: Surendra

Updated: 18 Dec 2020, 07:26 PM IST

मासलपुर के गदाखार पर एनिकट के लिए दिया धरना, सौंपा ज्ञापन
सर्वसमाज की ओर से आयोजन
करौली जिले में मासलपुर. क्षेत्र की जीवनदायनी बहुप्रतीक्षित गदाखार पेयजल एवं सिंचाई परियोजना की मांग को लेकर गुरुवार को तहसील कार्यालय के समक्ष सर्व समाज की ओर से धरना देने के साथ मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।
धरना प्रर्दशन में बड़ापुरा, भावली, दिमनपुरा, कसारा, उपरेला, मासलपुर, छैंडकापुरा, गुबरेंडा, शुभनगर, अर्जुनपुरा व सुक्काप़ुरा सहित क्षेत्र के ११ गांवों के ग्रामीणों ने भाग लिया। इस दौरान वक्ताओंं ने कहा कि लंबे समय से गदाखार पर एनीकट निर्माण की मांग चली आ रही है। लेकिन इस दिशा में कोई कार्यवाही नहीं होने पर ग्रामीणों ने सरकार के प्रति रोष जताया।
कांग्रेस की पूर्व जिला महासचिव अनीता मीना ने कहा, कि क्षेत्र के लोगों को सिंचाई एवं पीने के पानी की किल्लत से जूझना पड़ रहा है। हालात यह है कि आमजन के अलावा पशु पक्षी भी पेयजल समस्या से त्रस्त हैं। क्षेत्र के लोगों की आर्थिक स्थिति कमजोर होती जा रही है। लोगों पलायन को मजबूर हो रहे है।लेकिन जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासन की उपेक्षा के कारण एनीकट निर्माण की मांग आज भी अधूरी है। अनीता मीणा ने आवश्यकता पडऩे पर ग्रामीणों को आंदोलन के लिए भी तैयार रहने का आह्वान किया। धरना प्रर्दशन में रामेश्वर मीणा, चकोल्या मीणा, बनवारी लाल मीणा, बिजेन्द्र मीणा, कुमेर जाटव, धारासिंह,मानसिंह मीना, माखन लाल, तेजराम रामखिलाड़ी वर्मा, बाबूलाल तमोली समेत दर्जनों लोग शामिल थे।

व्यर्थ बह रहा है पानी-
बरसात के दिनों में गदाखार नाले का पानी व्यर्थ बह कर जा रहा है। जबकि एनीकट निमार्ण से मासलपुर क्षेत्र की पेयजल एवं सिंचाई समस्या का स्थाई समाधान हो सकता है। क्षेत्र के लोगों की वर्षों से चली आ रही मांग को लेकर किसी भी दल की सरकार ने गंभीरता से नहीं लिया गया है ।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned