सब इंस्पेक्टर ने शुरू की निर्धन बच्चों को पढ़ाने की पहल

सब इंस्पेक्टर ने शुरू की निर्धन बच्चों को पढ़ाने की पहल

गाडिया लुहारों के बच्चों को रोज पढ़ाने के किए प्रबंध
करौली . कोरोना दौर में जब स्कूल बंद हुए हैं तब जिला मुख्यालय पर पुलिस सब इंस्पेक्टर (यातायात प्रभारी) टीनू सोगरवाल ने गाडिया लुहारों के बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने की पहल की है। कैलादेवी-गंगापुरसिटी की सड़क के किनारे कृषि उपज मंडी के सामने गाडिया लुहारों की बस्ती में सोगरवाल रोज बच्चों को घूमते देखती थी। पता चला कि बच्चे कोरोना काल के कारण स्कूलों में नहीं जा रहे हैं।

By: Surendra

Updated: 09 Apr 2021, 07:05 PM IST

सब इंस्पेक्टर ने शुरू की निर्धन बच्चों को पढ़ाने की पहल

गाडिया लुहारों के बच्चों को रोज पढ़ाने के किए प्रबंध
करौली . कोरोना के दौर में जब स्कूल बंद हुए हैं तब जिला मुख्यालय पर पुलिस सब इंस्पेक्टर (यातायात प्रभारी) टीनू सोगरवाल ने गाडिया लुहारों के बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा उनके डेरे पर ही उपलब्ध कराने की पहल की है।
कैलादेवी-गंगापुरसिटी की सड़क के किनारे कृषि उपज मंडी के सामने गाडिया लुहारों की बस्ती में सोगरवाल रोज बच्चों को इधर उधर घूमते देखती थी। पूछताछ में पता चला कि बच्चे कोरोना काल के कारण स्कूलों में नहीं जा रहे हैं। इस पर उन्होंने इन बच्चों को पढ़ाने का संकल्प लिया। वह रोज सुबह इस बस्ती में तीन दिन से पहुंचकर निर्धन बच्चों के लिए पढ़ाई करा रही हैं। ड्यूटी की व्यस्तता के कारण बच्चों की पढ़ाई बाधित न हो और उनकी पढ़ाई का क्रम बना रहे इसके लिए सोगरवाल ने अब एक बालिका विनीता शर्मा को मानदेय पर रख दिया है। जो रोज दो घंटे निर्धन बच्चों को पढ़ाया करेगी। हर सप्ताह में सोगरवाल यहां आकर बच्चों की पढ़ाई का टैस्ट लेंगी।
इन बच्चों की पढ़ाई के लिए प्योर इंडिया ट्रस्ट के सहयोग से ब्लैक बोर्ड, कॉपी, पैंसिल, स्लेट आदि की व्यवस्था कर दी गई है। संस्था के प्रोजेक्ट मैनेजर खुशबिहारी शर्मा ने बताया कि बच्चों की निर्धनता को देखते हुए इनको वस्त्र सहित अन्य मदद भी आगे संस्था की ओर से की जाएगी।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned