पंचायत समिति के हाल-बेहाल

पत्रिका टीम ने सुबह ९.४५ बजे किया पंचायत समिति परिसर का अवलोकन
करौली/ गोठरा.ञ्च पत्रिका. लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद सरकारी कार्यालयों के अधिकारी-कर्मचारी बेपरवाह हो गए हैं, जिससे वे कार्यालयों से गायब ही रहते है।

By: Jitendra

Published: 29 Mar 2019, 11:50 AM IST

अधिकारी बेखौफ
पत्रिका टीम ने सुबह ९.४५ बजे किया पंचायत समिति परिसर का अवलोकन
करौली/ गोठरा.ञ्च पत्रिका. लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के बाद सरकारी कार्यालयों के अधिकारी-कर्मचारी बेपरवाह हो गए हैं, जिससे वे कार्यालयों से गायब ही रहते है। राजस्थआन पत्रिका की टीम ने सपोटरा उपखण्ड मुख्यालय के पंचायत समिति व विकास अधिकारी कार्यालय का जायजा लिया। इस दौरान दोनों ही विभागों के अधिकारी व कर्मचारी गायब मिले। पंचायत समिति कार्यालय के मनरेगा कार्यालय के कार्मिकों की उदासीनता के चलते महानरेगा की सभी कुर्सियां ९.४६ तक खाली थी। कार्यालय में अधिकारियों की उदासीनता के चलते कार्मिक भी नहीं पहुंचे थे। कार्यालय में एक मात्र चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कार्यालय में झाडू लगा रही थी वहीं कार्यालय के बाहर क्षेत्र के लोग अपने कार्यो के लिए महानरेगा कार्यालय के बाहर खड़े थे। इसी प्रकार पंचायत समिति के नागरिक सेवा केन्द्र के मुख्य द्वार ९.४७ बजे तक ताला लगा था। अपने कार्यों के लिए आए लोग चक्कर काट रहे थे।
अधिकतर कुर्सी रिक्त
पंचायत कार्यालय के अधिकारियों की उदासीनता के चलते कमरों की चाबी तक नहीं मिल पाती हैं। एएओ का ताला तो खोल दिया गया लेकिन अधिकारी-कर्मचारी समय पर नहीं आने से कार्यालय की ज्यादातर कुर्सियां रिक्त थी।
अधिकारी फील्ड में पता नहीं कहा
सपोटरा के पंचायत समिति परिसर के ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में पत्रिका टीम ने ९.४९ पर पहुंचकर कार्यालय की स्थिति जानी तो मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मौजूद नहीं थी। पूछने पर कार्यालय में मौजूद कर्मचारियों ने बताया कि सीबीईओ फील्ड में , कहा है इसका पता नहीं। कार्यालय से अधिकारी, कर्मचारी गायब मौजूद नहीं थे।
नहीं बदला नाम
पंचायत समिति के विकास अधिकारी कार्यालय की स्थिति जानने के लिए पत्रिका टीम कार्यालय पहुंची तो वहां विकास अधिकारी नहीं पहुंची थी। कार्यालय के मुख्य द्वार पर पूर्व विकास अधिकारी अजीत सहरिया का नाम लिखा हुआ जबकि सपोटरा विकास अधिकारी पद पर अनिता मीना नियुक्त है।
नोटिस देंगे
विकास अधिकारी अनिता मीना का कहना है कि पंचातय समिति कार्यालय का समय ९.३० बजे से है। कार्मिक ज्यादा से ज्यादा पांच मिनट लेट हो सकता है।
यदि इसके पश्चात कोई भी कार्मिक कार्यालय आए होगे तो जांच कर उनको नोटिस दिया जाएगा।

Jitendra Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned