आंगन में सो रहा था परिवार, आकाशीय बिजली गिरने से ढहा मकान

The family was sleeping in the courtyard, the house collapsed due to lightning
पीपलहेडा गांव की नाथों की ढाणी की घटना

By: Anil dattatrey

Updated: 25 Jul 2021, 11:48 PM IST


महूइब्राहिमपुर. ग्र्राम पंचायत ढहरा के गांव पीपलहेड़ा की नाथों की ढाणी में शनिवार रात आकाशीय बिजली गिरने मकान ढह गया। छत व दीवार के मलबे में दबने से उससे रखा हजारों रुपए सामान क्षतिग्र्रस्त हो गया। गनीमत रही कि परिवार के लोग बाहर आंगन में सोए हुए थे। नहीं तो बड़ा हादसा हो जाता।


पीडि़त महेंद्र नाथ ने बताया कि शनिवार रात को ऊमस भरी गर्मी होने से वह सपरिवार घर के बाहर आंगन में सोए हुए थे। आकाश में बादल छाए रहने के दौरान रात करीब 11 बजे एकाएक बिजली चमक और गडगड़ाहट के साथ उसका मकान ढहर गया। गर्जना से मकान की छत व दीवारों के गिरने की आवाज सुन परिजल सहम गए। मकान के कक्षों मेंं रखा हजारों रुपए की कीमत का अनाज, पंखा, टीवी, कूलर आदि सामान मलबे में दब गया। रविवार सुबह घटना की जानकारी लेने के लिए मौके पर भीड जमा हो गई।

ग्रामीणों ने बताया कि आकाशीय बिजली के प्रभाव से पास स्थित नीम का पेड़ का तना भी फट गया। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से अकाशीय बिजली पीडित परिवार को आर्थिक सहायता मुहैया कराने की मांग की है। ताकि परिवार को लिए धूप और बारिश से बचाव के लिए छत मिल सके।

Anil dattatrey
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned