#CoronaKeKarmvir: कोरोना के कर्मवीर ने ले रखा है यह अनूठा संकल्प

करौली. कोरोना वायरस से उपजी संकट की घड़ी में जहां चिकित्सालयों में चिकित्सक और नर्सिंगकर्मी कर्मयोद्धा बने हैं,

By: Dinesh sharma

Published: 09 Apr 2020, 08:50 PM IST

करौली. कोरोना वायरस से उपजी संकट की घड़ी में जहां चिकित्सालयों में चिकित्सक और नर्सिंगकर्मी कर्मयोद्धा बने हैं, वहीं दूसरी ओर सामाजिक-धार्मिक संगठन व अन्य लोग जरुरतमंदों के लिए मददगार बने हुए हैं।

इस सबके बीच एक कर्मवीर ऐसे भी हंै, जो प्रतिदिन जरुतमंदों के लिए भामाशाहों को आर्थिक सहयोग के लिए प्रेरित करने में जुटे हैं। मानव सेवा के संकल्प के साथ अपने मिशन में जुटे करौली निवासी भुवनेन्द्र भारद्धाज शिक्षक हैं, जो अपनी ड्यूटी के साथ इस कार्य को भी अंजाम दे रहे हैं।

राजकीय माध्यमिक विद्यालय बिचुपरी में कार्यरत वरिष्ठ अध्यापक फिलहाल उपजिला कलक्टर कार्यालय में व्यवस्था बतौर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। कोरोना से आई संकट की घड़ी में इन्होंने भी गत 27 मार्च से एक प्रण किया, जिसके तहत भारद्धाज प्रतिदिन एक भामाशाह को आर्थिक सहयोग के लिए तैयार करते हैं।

उन्होंने संकल्प लिया हुआ है कि प्रतिदिन जब तक एक भामाशाह के जरिए जिला प्रशासन के माध्यम से सहायता कोष में आर्थिक सहयोग नहीं दिलाया जाए, तब तक वे अन्न भी ग्रहण नहीं करते। दानदाताओं-भामाशाहों के साथ वे स्वयं कलक्ट्रेट पहुंचते हैं और जिला कलक्टर को सहायता राशि का चेक सौंपते हैं। अब तक वे जिला कलक्टर सहायता कोष में 3 लाख 60 हजार रुपए से अधिक की आर्थिक सहायता के चेक दिला चुके हैं।

भारद्वाज कहते हैं कि मेरी एक छोटी से कोशिश से मानव सेवा हो जाए, बस यही सोचकर मैं प्रतिदिन एक भामाशाह के जरिए सहयोग का संकल्प लेकर कार्य कर रहा हूं। इससे मुझे आत्म संतुष्टि भी हो रही है। फिलहाल 14 अप्रेल तक के लिए यह संकल्प है। भारद्वाज के अनुसार उनके द्वारा कम से कम 5100 रुपए की सहायता के लिए भामाशाहों को प्रेरित किया जाता है, लेकिन कई लोगों व संगठनों ने उनके प्रयास से 11 हजार से लेकर एक लाख रुपए तक दिए हैं। गुरुवार को तो दानदाताओं को राशि के साथ भोजन के पैकेट वितरण के लिए भी उन्होंने प्रेरित किया।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned