अगले दो सप्ताह होंंगे पीक, सुद्रढ़ रखें चिकित्सा व्यवस्था, मौत का ग्राफ कम करना  चुनौती

The next two weeks will be peak, keep the medical system strong, challenge to reduce the graph of death

कोविड वार्ड का निरीक्षण कर कलक्टर ने ली चिकित्सकों की बैठक

By: Anil dattatrey

Published: 16 May 2021, 09:42 AM IST


हिण्डौनसिटी. आगामी दो सप्ताह में कोरोना के संक्रमण के कहर और बढऩे की आशंकाओंं को लेकर शनिवार शाम कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग राजकीय चिकित्सालय पहुुंचे कोविड आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया। साथ ही पीएमओ कक्ष में चिकित्सकों व कोविड प्रबंधन से जुडे प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान कलक्टर ने आगामी दो 'वीकÓ में संक्रमण का 'पीकÓ होने की आशंका जता कर चिकित्सा इंतजामों को और दुुरस्त कर तैयार रहने को कहा। साथ ही उन्होंने कोविड वार्ड में बढ़ रहे मौतों के ग्राफ को कम करने पर जोर दिया।


टोडाभीम व नादौती क्षेत्र के कोविड प्रबंधों की तैयारियों का जायजा दे शाम को कलक्टर चिकित्सालय पहुंचे। जहां उन्होंने आइसोलेशन वार्ड में पहुंच रोगियों के उपचार व्यवस्था, ऑक्सीजन की आपूर्ति, ऑक्सीजन कंसंट्रेटरों की उपयोगिता आ िआदि देखी। इस दौरान कोविड वार्ड प्रभारी डॉ. आशीष शर्र्मा ने वार्ड में भर्ती रोगियों के रिकवरी और अग्रित उपचार के बारे में पूछा। साथ ही प्रत्येक रोग की तबीयत के बारे में जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने सफाई व्यवस्था में और सुधार के निर्देश दिए। बाद में क्रमिक रूप से कोविड सेंटर के सभी वार्डों में घूम कर व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया।

आईसीयू के लिए अलग हो मैनीफोल्ड रूम-
आगामी सप्ताह की स्थितियों को देखते हुए कलक्टर ने आईसीयू वार्ड में ऑक्सीजन सप्लाई को और सुद्रढ़ बनाने पर जोर दिया। इसके लिए उन्होंने आईसीयू के लिए अलग से मैनीफोल्ड रूम(सिलण्डरों से ऑक्सीजन सप्लाई कक्ष) बनाने के निर्देश दिए। ताकि रोगियों को उचित प्रेशर में ऑक्सीजन की आपूर्ति दी जा सके। साथ ही उन्होंने दवाओं की उपलब्धता पर्याप्त रखने के निर्देश दिए। बैठक में एसडीएम सुरेश कुमार यादव, कोविड प्रबंधन आरएएस अधिकारी अनूपसिंह,तहसीलदार मनीराम खींचड, सीएमएचओ डॉ. दिनेश मीणा, पीएमओ डॉ. नमोनारायण मीणा मौजूद थे।

गांवों में सर्वे कर संक्रमितों का करें उपचार-
कलक्टर ने कहा कि शहरों से निकल अब संक्रमण गांवों में बढ़ रहा है। ऐसे में गांवों में घर-घर सर्वे कर स्वास्थ्य कार्यकर्ता व कोविड प्रबंधन कर्मचारी बीमारों की तलाश करें। पल्स ऑक्सीमीटर से जांच का मौके पर दवा किट दे और जरुरत आधार पर निकटतम सामुदायिक स्वास्थ्य के केन्द्र में भर्ती कराने के निर्देश दिए।

मौतें चिंताजनक, ध्यान देने की जरुरत-
बीस दिन में कोविड वार्ड में 84 जनों सांसें थमने को कलक्टर ने चिंताजनक बताया। उन्होंने गंभीर प्रकृति व कम गंभीर रोगियों का अलग-अलग विभाजन कर सघन उपचार व्यवस्था लागू करने की बात कही। ताकि मौत के बढ़ते ग्राफ को कम किया जा सके। कोविड वार्ड प्रभारी डॉ. आशीष शर्मा ने बताया कि शनिवार को बीते 24 घंटे में वार्ड में 69 रोगी भर्ती रहे। 18 रोगियों को डिस्चार्ज किया गया। वहीं 2 की मौज हो गई।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned