scriptThe rigging in MNREGA is not getting employment to the needy | मनरेगा में हो रही धांधली नहीं मिला रहा जरूरतमंदों को रोजगार, ग्रामीण लगा रहे आरोप | Patrika News

मनरेगा में हो रही धांधली नहीं मिला रहा जरूरतमंदों को रोजगार, ग्रामीण लगा रहे आरोप


मनरेगा में हो रही धांधली नहीं मिला रहा जरूरतमंदों को रोजगार, ग्रामीण लगा रहे आरोप

आर्थिक तंगी से जूझ रहे मजदूर

करौली जिले में मनरेगा के कामों को लेकर ग्रामीणों में असंतोष है। उनकी शिकायत है कि इस योजना में जमकर धांधली की जा रही है। इससे जरूरतमंद रोजगार से वंचित हैं। कुडग़ांव क्षेत्र के ग्रामीणों ने मनरेगा कार्य में धांधली का आरोप लगाया है। उनकी शिकायत है कि मनरेगा के कार्य केवल कागजों तक ही सीमित होकर रह गए है। मौके पर ना कार्य होता है ना मजदूर मिलते हैं।

करौली

Published: January 05, 2022 12:15:53 pm


मनरेगा में हो रही धांधली नहीं मिला रहा जरूरतमंदों को रोजगार, ग्रामीण लगा रहे आरोप

आर्थिक तंगी से जूझ रहे मजदूर

करौली जिले में मनरेगा के कामों को लेकर ग्रामीणों में असंतोष है। उनकी शिकायत है कि इस योजना में जमकर धांधली की जा रही है। इससे जरूरतमंद रोजगार से वंचित हैं। कुडग़ांव क्षेत्र के ग्रामीणों ने मनरेगा कार्य में धांधली का आरोप लगाया है। उनकी शिकायत है कि मनरेगा के कार्य केवल कागजों तक ही सीमित होकर रह गए है। मौके पर ना कार्य होता है ना मजदूर मिलते हैं। निर्धन लोगों को रोजगार नहीं मिलने से उनका हक छीना जा रहा है। कहीं कार्य होता है तो वह मजदूरों से नहीं कराकर जेसीबी से कराया जाता है। जबकि नियमानुसार मनरेगा में मजदूरी के लिए काम मजदूरों से कराया जाना चाहिए। इससे उनको रोजगार के बदले मजदूरी मिले और उनका घर खर्च चल सके। ग्रामीणों का आरोप है, कि मस्टररोल में काफी गड़बड़ी इलाके के जनप्रतिनिधियों की ओर से की जा रही है।
मनरेगा में हो रही धांधली नहीं मिला रहा जरूरतमंदों को रोजगार, ग्रामीण लगा रहे आरोप
मनरेगा में हो रही धांधली नहीं मिला रहा जरूरतमंदों को रोजगार, ग्रामीण लगा रहे आरोप
रोजगार नहीं मिलने से परेशानी

ग्रामीणों ने बताया कि कुडग़ांव ग्राम पंचायत में पिछले माह 10 स्थानों पर काम स्वीकृत हुआ था। इसमें सैकड़ों मजदूरों को रोजगार मिलना था, लेकिन केवल चार जगह पर ही कार्य कराया गया है। वहां भी पूरे मजदूरों को कार्य नहीं दिया है। ग्रामीणों ने मजदूरों को रोजगार देकर मनरेगा में धांधली रोकने की मांग की है। मजदूरों को रोजगार नहीं मिलने से आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ रहा है।
ऑनलाइन पर 10 स्वीकृत, सरपंच बता रहे 4
ग्राम पंचायत सरपंच विष्णु बैरवा ने बताया कि ग्राम पंचायत के लिए केवल 4 मस्टरोल ही स्वीकृत हुई है, जहां कार्य कराया जा रहा है। इधर पंचायती राज्य के सॉफ्टवेयर पर कुडग़ंाव ग्राम पंचायत में 10 स्थानों पर मस्टररोल स्वीकृत होना दर्शाया हुआ है।
जांच कराई जाएगी
सपोटरा पंचायत समिति के विकास अधिकारी अजीत सहरिया ने बताया कि इस मामले की जानकारी नहीं है। यदि ग्राम पंचायत द्वारा गड़बड़ी की जा रही तो मामले की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।
कंचनपुर पंचायत से भी शिकायत
करौली। मासलपुर पंचायत समिति अन्तर्गत कंचनपुर ग्राम पंचायत में मनरेगा कार्यों में धांधली का आरोप लगाते हुए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी को शिकायत की गई है।
शिकायत में फर्जी मस्टररोल के जरिए काम कराए जाने का आरोप लगाया गया है। आरोप है कि मशीनरी से काम कराकर फर्जी मजदूरों के नाम से धनराशि उठाई जा रही है। मस्टररोल में चहेतों के नाम लिख रखे हैं। ग्रामीणों ने मनरेगा के कार्यो की जांच कराने की मांग की है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.