scriptThe soldiers of this village of Rajasthan are showing their might from | राजस्थान के इस गांव के जवान द्वितीय विश्व युद्ध से दिखा रहे हैं पराक्रम | Patrika News

राजस्थान के इस गांव के जवान द्वितीय विश्व युद्ध से दिखा रहे हैं पराक्रम

The soldiers of this village of Rajasthan are showing their might from the Second World War
करौली जिले के निसूरा गांव में 500 से अधिक सैनिक व पूर्व सैनिक

-थल सेना दिवस पर विशेष

करौली

Updated: January 15, 2022 11:21:35 am

निसूरा. गांव जिसकी फौजियों का गांव के नाम से पहचान कायम हो गई। चाहे प्रथम द्वितीय विश्व युद्ध हो या फिर कारगिल की लड़ाई। करौली जिले के इस गांव के जांबाज पीछे नहीं हटे। कुछ तो मातृभूमि की रक्षा करते शहीद भी हुए।
जिले में निसूरा एक ऐसा गांव होगा जिसकी चौथी पीढ़ी फौज में पहुंच गई। बुजुर्गों के अनुसार पूरे गांव से अब तक करीब 500 से अधिक सैनिक सेना में रहकर दुश्मनों को जंग में हरा चुके। गांव के एक सैनिक सुबुद्धि राम वर्ष 1965 के युद्ध में शहीद हुए।
राजस्थान के इस गांव के जवान द्वितीय विश्व युद्ध से दिखा रहे हैं पराक्रम
निसूरा. थल सेना दिवस पर सेना में तैनाती के अनुभवों को साझा करते पूर्व सैनिक।
द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान गांव के करीब 25 सैनिकों ने अलग-अलग जगहों पर दुश्मनों से लोहा मनवाया। निसूरा गांव से भारतीय सेना में 12 कैप्टन, 25 सूबेदार, 50 नायब सूबेदार सहित हवलदार और दर्जनों सिपाही देश की सरहद के प्रहरी रह चुके। निसूरा गांव में प्रत्येक घर से सेना में बताए। फौज से रिटायर होकर आए लोगों के सुनाएं किस्से आज भी रोंगटे खड़े कर देते हैं।
जरूरत पडऩे हम आज भी तैयार-
सेना से रिटायर्ड कैप्टन टुण्डाराम, कैप्टन समय सिंह गुर्जर, कैप्टन हरस्वरूप, सूबेदार शिवचरण, सूबेदार प्रेमसिंह, हवलदार बहादुरसिंह, हवलदार किरोड़ी, हवलदार निहाल सिंह ने बताया कि जरूरत पडऩे पर हम आज भी तैयार दिखेंगे। पूर्व सैनिक भले उम्रदराज हो गए हैं, लेकिन इनका जज्बा आज भी कम नहीं हुआ है। वह बोले दुश्मन के दांत खट्टे करने में उनके हौसले कम नहीं हुए। आवाज पड़ी तो सीमा पर जा पहुंचेंगे।

पांच पीढिय़ों से सेना में गंगाधर का परिवार -
द्वितीय विश्व युद्ध के सैनिक निसूरा निवासी हवलदार गंगाधर के परिवार की पांच पीढियां सेना में है। उनके तीनों बेटे फौज में भर्ती हुए। बड़े बेटा कैप्टन किरोड़ी ने 1971 के युद्ध में भाग लिया। दूसरे बेटे सूबेदार हरवीर व छोटा बेटा हवलदार भूरसिंह सेना में रहे। तीसरी पीढ़ी में कैप्टन किरोड़ी का पुत्र सूबेदार रामअवतार, हरवीर के दो पुत्र हवलदार रमेश व नायक बाबू गुर्जर एवं भूरसिंह का एक पुत्र महेंद्र सेना में सेवा दे रहे हैं। चौथी पीढ़ी में रमेश का बड़ा बेटा विष्णु गुर्जर व बाबू का बेटा गोविंद सेना में सीमा पर तैनात हैं। वहीं निसूरा गांव के ही हवलदार चिम्मन के पुत्र रामेश्वर, दूसरा बेटा कैप्टन सिरमौर व तीसरा बेटे हवलदार रामनिवास ने भी 1971 के युद्ध में भाग लिया। तीसरी पीढ़ी में कैप्टन सिरमोर का पुत्र नटवर व रामेश्वर का पुत्र चंद्रभान सेना में भर्ती हुए।
राजस्थान के इस गांव के जवान द्वितीय विश्व युद्ध से दिखा रहे हैं पराक्रमराजस्थान के इस गांव के जवान द्वितीय विश्व युद्ध से दिखा रहे हैं पराक्रम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Corona cases in india: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.35 लाख केस, 871 की मौत, संक्रमण दर हुई 13.39%UP Assembly Elections 2022: भाजपा ने किसानों से झूठा वादा किया, उन्हें धोखा दिया, प्रेस कांफ्रेंस में बोले अखिलेशदिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू खत्म, आज से नई गाइडलाइंस के साथ मेट्रो सेवाएं शुरूउत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव 2022 की डेट का ऐलान, जानें कितने सीटों के लिए और कब आएगा रिजल्टमुस्लिम वोटों को लुभाने के लिए बसपा ने किया बड़ा खेल, बाकी हैरानCISF Recruitment 2022: सीआईएसएफ में फायरमैन कांस्टेबल के लिए बंपर भर्ती, 12वीं पास आज से करें आवेदनखतरनाक साइड इफैक्ट : इलाज के बाद ठीक हुए मरीजों पर आइआइटी का शोध, खराब हो रहे ये अंगओमिक्रॉन के नए वैरिएंट की एंट्री, मरीजों के सैंपल भेजे दिल्ली, 1418 पुलिसवाले भी संक्रमित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.