पुलिसकर्मी की पत्थर से नृशंस हत्या करने का आरोपी गिरफ्तार

पुलिसकर्मी की पत्थर से नृशंस हत्या करने का
आरोपी गिरफ्तार

आठ दिन बाद मध्यप्रदेश में पकड़ा

करौली। जिले के मण्डरायल कस्बे में आठ दिन पहले पुलिसकर्मी की हत्या करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह आरोपी हत्या करके मध्यप्रदेश में जा छुपा था। आरोपी सम्पत सिंह राजपूत की गिरफ्तारी के लिए घटना के बाद से पुलिस सक्रीय हुई थी। उसके ग्वालियर, मुरैना, भिण्ड में रिश्तेदारों एवं परिचितों से मिलने की खबर पता चली। मुखबिर से प्राप्त सूचना के बाद उसे भिण्ड जिले के गांव से गिरफ्तार किया गया।

By: Surendra

Published: 04 May 2021, 04:27 PM IST

पुलिसकर्मी की पत्थर से नृशंस हत्या करने का
आरोपी गिरफ्तार

आठ दिन बाद मध्यप्रदेश में जाकर पकड़ा

करौली। जिले के मण्डरायल कस्बे में आठ दिन पहले पुलिसकर्मी की नृशंस हत्या करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह आरोपी हत्या करके मध्यप्रदेश में जा छुपा था।
पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि 25 अप्रेल की रात को मण्डरायल थाने का पुलिसकर्मी अपने एक साथी के साथ कस्बे में गश्त के लिए निकला था। सब्जीमण्डी के पास राधारानी मार्केट मार्केट में एक मेडिकल की दुकान पर गोकलेश ने साथी पुलिसकर्मी को आगे चलने की बोला और खुद पानी पीने के लिए ठहर गया था। यहां पर ही मण्डरायल थाने के जाखौदा गांव निवासी सम्पतसिंह ने स्वापी में पत्थर बांधकर गोकलेश पर हमला किया। इससे वह जख्मी होकर गिर गया तब भी उस पर पत्थर से लगातार चोटें मारी। इससे गोकलेश की मौके पर मौत हुई। वारदात करके आरोपी मौके से फरार हुआ था।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी सम्पत सिंह राजपूत की गिरफ्तारी के लिए घटना के बाद से पुलिस सक्रीय हुई थी। इसके लिए पांच टीमें गठित करके अलग-अलग स्थानों पर दबिश दी गई। साथ ही लोकेशन पता लगाने के लिए साइबर सैल की मदद ली गई। इनमें से ही एक टीम को सम्पतसिंह के बारे में चम्बल पार करके मध्यप्रदेश की ओर निकल जाने की सूचना मिली। इसी दिशा में तलाश को जारी रखने पर उसके ग्वालियर, मुरैना, भिण्ड में अपने रिश्तेदारों एवं परिचितों से मिलने-जुलने की खबर भी पता चली। इसी दौरान मुखबिर से प्राप्त सूचना के बाद उसे भिण्ड जिले के एक गांव से गिरफ्तार किया गया।

रंजिश के कारण की हत्या

आरोपी ने पुरानी रंजिश के कारण हत्या करना स्वीकार किया है। उसने पुलिस को बताया कि कांस्टेबल गोकलेश उसके कामों व कारोबार पर अंकुश लगाता था। इससे वह क्षुब्ध था और उसकी हत्या करने की ठानी थी। एसपी ने जानकारी दी कि आरोपी के खिलाफ दो आपराधिक मामले न्यायालय में लम्बित हैं जबकि एक में उसे दण्डित किया जा चुका है।

टीम में ये रहे शामिल
जिस पुलिस टीम को आरोपी की गिरफ्तारी में सफलता मिली, उसमें सपोटरा के थानाधिकारी बनवारी लाल, करौली सदर के थानाधिकारी अमित शर्मा, लांगरा थानाधिकरी भंवरसिंह कर्दम, एडीएफ प्रभारी रामवीरसिंह, जिला स्पेशल टीम के हैड कांस्टेबल रवीन्द्र सिंह, साइबर सैल प्रभारी एएसआई घनश्याम, कांस्टेबल मनीष कुमार तथा पुष्पेन्द्र सिंह शामिल हैं।

पत्रिका की खबर सटीक

पुलिसकर्मी की हत्या के आरोपी की जल्दी गिरफ्तारी के
संकेत पत्रिका ने पहले ही दे दिए थे। 4 मई को पत्रिका में प्रकाशित समाचार में बताया गया था कि पुलिस आरोपी के बारे में मध्यप्रदेश की ओर सुराग लगा चुकी है और जल्दी गिरफ्तारी हो सकती है।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned