शराब के ठेके पर महिलाओं ने जमाया कब्जा, नहीं खोलने दी दुकान

Women took possession on liquor contracts, did not let shop open
शहर से गांवों तक शराब के ठेकों का विरोध...
-पायलट नगर व फाजिलाबाद में लोगों ने धरना दे किया प्रदर्शन

By: Anil dattatrey

Published: 03 Apr 2021, 11:51 PM IST

हिण्डौनसिटी. शहर के बायपास पर पायलट नगर और निकटवर्ती फाजिलाबाद गांव में आबादी क्षेत्र में शराब की दुकानें खोलने के विरोध में शनिवार को दिनभर धरना- प्रर्दशन का दौर चला। लोगों की भीड़ और कड़े विरोध के चलते दोनों जगह शराब की दुकानें खुल नहीं पाई। समझाईश के लिए आबकारी विभाग और पुलिस महकमे के अधिकारी मौके पर भी पहुंचे, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। महिलाएं व कॉलोनी के लोग शराब की दुकान को हटाने की मांग पर अड़े रहे।


कॉनोनीवासियों ने बताया शराब की दुकान हटाने की मांग को लेकर जिला कलक्टर, एसडीएम, पुलिए उपाधीक्षक व आबकारी विभाग के अधिकारियों को ज्ञापन भेजे गए हैं। लोगों ने समुचित कार्रवाई नहीं होने तक विरोध प्रदर्शन जारी रखने की चेतावनी दी है। इधर कर्नल बैंसला फाउण्डेशन के ट्रस्टी विजय बैंसला ने जिला प्रशासन ने आवासीय क्षेत्रों में खोले गए शराब की दुकानों हटाने की मांग की है।

घरों के बाहर बैठ पी शराब, दरवाजों पर फोड़ी बोतलें-
दरसअल कई वर्षों से मंडावरा फाटक के पास संचालित हो रही शराब की दुकान दो दिन से पायलट नगर में पेट्रोल पंप के पास लोहे का कंटेनर रखकर संचालित की जाने लगी है। स्थानीय बाशिंदों का आरोप है कि शराबियों ने बीते दिवस उनके घरों के बाहर शराब पी और बोतलों को वहीं फोड़ गए। साथ ही महिलाओं से भी अपशब्द कह अपभद्रता कर दी। इसके चलते शनिवार सुबह करीब आठ बजे दर्जनों महिला-पुरुष दुकान खुलने से पहले वहां पहुंच गए। साथ ही धरना देकर दुकान के बाहर बैठ गए। शराब ठेकेदार व सैल्समेन दुकान पर पहुंचे तो दुकान के बाहर धरना-प्रदर्शन होता मिला। लोगों ने बताया कि आबादी क्षेत्र में शराब का ठेका संचालित होने नहीं दिया जाएगा। इस दौरान महेन्द्र शर्मा, सुमेर मीणा, शकुंतला, रूमाली, रेखा, कमलेश, सुनीता, विमलेश, भीमसिंह, मुकेश, बदनसिंह, हेमा, रेखा, सुमन समेत काफी संख्या में लोग मौजूद थे।

क्रेन बुला कर सडक़ पर रखवा दिया शराब का कंटेनर-
इधर फाजिलाबाद में शराब की दुकान का विरोध कर रहे ग्रामीणों ने हाईड्रा मशीन बुलवा कर शराब के कंटेनर (दुकान) को सडक़ पर रखवा दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि सरकारी स्कूल के पास संवेदक द्वारा लोहे का कंटेनर रख शराब बिक्री बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मौके पर पहुंचे शराब ठेकेदार, आबकारी विभाग व पुलिस अधिकारियों ने काफी समझाईश की गई, लेकिन कोई असर नहीं हुआ। इस दौरान सुरेश कुमार मीणा, किशन पटेल, मनोज सैन, रामनिवास मीणा, मनोज शर्मा, लटूर सिंह गुर्जर आदि मौजूद थे।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned