जिनालयों में हुए पूजा विधान, भगवान महावीर का किया पंचामृत अभिषेक

Worship legislation in Jinalayas, Panchamrit Abhishek done for Lord Mahavir

अनंत चतुर्दशी पर्व हर्षोल्लास से मनाया

By: Anil dattatrey

Published: 20 Sep 2021, 12:16 AM IST

श्रीमहावीरजी .
श्री दिगंबर जैन मुख्य मंदिर में रविवार को दसलक्षण महापर्व अंतर्गत अनंत चतुर्दशी का पर्व हर्षोल्लास से मनाया गया। इस दौरान जिनालयों में सुबह से देर शाम तक विशेष पूजा विधान हुए।


मंदिर कमेटी के मैनेजर नेमीकुमार पाटनी ने बताया कि अंनत चतुर्दशी पर मुख्य मंदिर में अनेक धार्मिक कार्यक्रम हुए। दोपहर में मुख्य मंदिर में दिगंबर जैन पंचायती श्रीमहावीरजी जैन समाज द्वारा चौबीस मंडल विधान कार्यक्रम हुआ। शाम चार बजे मंत्रोच्चार के साथ मुख्य मंदिर स्थित भगवान महावीर की भक्ति संगीत मंडल द्वारा पूजा की गई। मुख्य मंदिर से नदी तट बगीचे तक जलूस निकाला गया।

जहां से जैन समाज की महिलाएं मंगल कलश लेकर मुख्य मंदिर पहुंची। बाद में पश्चिमी पांडाल में श्रीजी की प्रतिमा का पंचामृत अभिषेक एवं पूजा अर्चना धूमधाम से की गई। इससे पूर्व कलशों की बोली लगाई गई। देर शाम मान स्तंभ परिसर में दीपकों से आरती की गई।

इस अवसर पर जैन समाज के संजय छाबड़ा, रमेश कासलीवाल महेश कासलीवाल , योगेश पाटनी ,पंडित मुकेश शास्त्री, पंडित सुरेश शास्त्री, सोनू जैन पुजारी, महेश,मोनू सेठी, जिनेश पांड्या, चंदनबाला महिला मंडल की प्रवक्ता मधु जैन सहित हजारों की संख्या में जैन धर्मालंबी श्रद्धालु उपस्थित रहे।

जिनालयों में हुए पूजा विधान, भगवान महावीर का किया पंचामृत अभिषेकजिनालयों में हुए पूजा विधान, भगवान महावीर का किया पंचामृत अभिषेक
Anil dattatrey
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned