मुआवजा वितरण में पारदर्शिता के लिए सीएम ने लिखा मंत्रियों को पत्र

मुख्यमंत्री मनोहर लाल स्वयं अम्बाला व हिसार में मुआवजा वितरण का व्यक्तिगत रूप से जायजा लेंगे

By: युवराज सिंह

Published: 30 Apr 2015, 12:46 PM IST

चण्डीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की पहल पर राहत राशि वितरण एक निश्चित समयावधि व पूरी पारदर्शिता के साथ किसानों तक पहुंचाने के लिए हरियाणा सरकार ने विशेष प्रबंध किए हैं। रबी फसलें मार्च, 2015 में बेमौसमी बारिश व अतिओलावृष्टि के कारण क्षतिग्रस्त हुई थी जिसकी राहत राशि 15 मई, 2015 तक सभी प्रभावित किसानों को वितरित कर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने मुआवजा वितरण में पूरी पारदर्शिता लाने के लिए सभी मंत्रियों को पत्र लिखकर अपने-अपने जिलों से संबंधित जिला लोक सम्पर्क एवं शिकायत निवारण कमेटी के अध्यक्ष के नाते कार्यक्रम की निगरानी व निरीक्षण करने के साथ-साथ कुछ विशेष गांवों में दौरे करने को भी कहा है ताकि पूरी प्रक्रिया उचित एवं समयबद्घ तरीके से पूरी हो सके। मुआवजा मार्च, 2014 में हुई बेमौसमी बारिश के अलावा अगस्त/सितम्बर, 2015 में हुए फसलों के नुकसान के लिए भी दिया जाएगा। इसके अलावा, मुख्य सचिव डी एस ढेसी की ओर से भी प्रशासनिक सचिवों को पत्र लिख कर मुआवजा वितरण की मोनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं।

मंत्रियों को पत्र लिखकर दिए निर्देश
मुख्यमंत्री मनोहर लाल स्वयं अम्बाला व हिसार में मुआवजा वितरण का व्यक्तिगत रूप से जायजा लेंगे जबकि शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा रोहतक और फरीदाबाद, वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु यमुनानगर व सोनीपत, कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ पंचकूला व गुडग़ांव, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज कुरूक्षेत्र व फतेहाबाद, लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह करनाल व रेवाड़ी, सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री कविता जैन जींद व भिवानी, सहकारिता राज्य मंत्री बिक्रम सिंह यादव महेन्द्रगढ़ व झज्जर, सामाजिक न्याय व अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी कैथल, सिरसा व मेवात तथा खाद्य एवं आपूर्ति राज्य मंत्री कर्ण देव कम्बोज पानीपत व पलवल जिलों में मुआवजा वितरण की मोनिटरिंग करेंगे।

प्रशासनिक सचिवों को भी किया नियुक्त
प्रशासनिक सचिवों में यमुनानगर जिले के लिए बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजन गुप्ता, सिरसा जिले के लिए औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग के प्रधान सचिव अनिल कुमार, आबकारी एवं कराधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोशन लाल नारनौल, परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस एस ढिल्लों पलवल, लोक निर्माण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव हरदीप कुमार भिवानी तथा खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एस एस प्रसाद झज्जर को निगरानी व निरीक्षण हेतु नियुक्त किया गया है।

मेवात जिले के लिए स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राम निवास, गुडगांव जिले के लिए ग्राम एवं आयोजना विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी राघवेन्द्रा राव, रोहतक जिले के लिए गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी के महापात्रा, कुरूक्षेत्र जिले के लिए खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के के खण्डेलवाल, रेवाडी जिले के लिए कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव धनपत सिंह और जींद जिले के लिए विकास एवं पंचायत विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव नवराज संधू को नियुक्त किया गया है।

कैथल जिले के लिए जन स्वास्थ्य अभियान्त्रिकी विभाग के प्रधान सचिव आलोक निगम, अम्बाला जिले के लिए सिंचाई विभाग के प्रधान सचिव आर आर जोवल, पंचकूला जिले के लिए तकनीकी शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव धीरा खण्डेलवाल, सोनीपत जिले के लिए उद्योग विभाग के प्रधान सचिव देवेन्द्र सिंह, फतेहाबाद जिले के लिए सैकेण्डरी शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव टी सी गुप्ता, फरीदाबाद जिले के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रधान सचिव अवतार सिंह, हिसार जिले के लिए पशुपालन विभाग के प्रधान सचिव महावीर सिंह, करनाल जिले के लिए सहकारिता विभाग के प्रधान सचिव सुधीर राजपाल तथा पानीपत जिले के लिए पर्यावरण विभाग के प्रधान सचिव अनुराग रस्तोगी को लगाया गया है।
युवराज सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned