...अब सरकारी कर्मचारियों को देंगे 25 लाख इनाम

विधायक की प्रशासन पर दवाब बनाने की तैयारी

By: Chandra Prakash sain

Published: 02 Jun 2020, 09:23 PM IST

गुरुग्राम. चुनाव से पहले जनता के बीच रहकर उनकी सेवा करने के दावे करने वाले निर्दलीय प्रत्याशी राकेश दौलताबाद को जनता ने इसी उम्मीद से चुना था कि वे उनकी सेवा में खड़े मिलेंगे। कोरोना काल में जनता की यह उम्मीद धराशायी हो गई। लोग भूखे मरते रहे लेकिन विधायक को कोई चिंता नहीं हुई मगर अब विधायक अच्छा कार्य करने वालों के लिए अपनी ओर से एक योजना लेकर आए हैं। इसमें बेहतर कर्मचारियों को वे 25 लाख रुपए का इनाम देंगे।
मंगलवार को यहां पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता करके बादशाहपुर के विधायक राकेश दौलताबाद ने यह घोषणा की। इस घोषणा के साथ ही उन पर सवाल खड़े होने लगे कि आखिर कोरोना काल में भूखे मरने वालों के लिए उनके पास कोई योजना नहीं थी। जिस तरह से गुरुग्राम के विधायक सुधीर सिंगला ने पूरे लॉकडाउन में नियमित रूप से जनता के बीच जाकर काम किया उनके मुकाबले 5 प्रतिशत काम भी बादशाहपुर के विधायक राकेश दौलताबाद नहीं कर पाए। लगभग आधा गुरुग्राम शहर भी बादशाहपुर विधानसभा क्षेत्र में आता है। लेकिन उन्होंने कहीं पर भी अपनी तरफ से कोई काम करने की जहमत नहीं उठाई।
अब वे एकाएक बाहर निकले और सरकारी कर्मचारियों के लिए एक योजना लेकर आए हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने ऐसा सिस्टम बनाया है जिसमें जनता सरकारी कर्मचारियों की सेवा के आधार पर रेटिंग देगी। फिलहाल उन्होंने इस दौड़ में बिजली सड़क और पानी से संबंधित सरकारी विभागों के कर्मचारियों को शामिल किया है। दूसरे विभागों के लिए वे अलग से घोषणा करेंगे।

हरियाणा की अन्य खबरों के लिए क्लिक करें...

Chandra Prakash sain Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned