कासगंज: स्वतंत्रता दिवस पर छलका चंदन गुुप्ता के पिता का दर्द देखें वीडियो

Amit Sharma

Publish: Aug, 15 2018 08:03:27 PM (IST)

Kasganj, Uttar Pradesh, India

कासगंज। 26 जनवरी तिरंगा यात्रा हिंसाकांड की घटना को लेकर भले ही जिला प्रशासन ने सबक ले लिया हो, लेकिन इस तिरंगा यात्रा की भेंट चढ़े चंदन गुप्ता के परिवार में आज भी दहशत का माहौल है। आज 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भी बेटे की याद में चंदन गुप्ता की परिवार में माहौल गमगीन रहा। परिजनों का कहना है कि सरकार द्वारा आश्वासन के बाद भी चंदन गुप्ता को शहीद का दर्जा नहीं मिल सका।

स्वतंत्रता दिवस पर बोले चंदन के पिता

चंदन गुप्ता के घर में आज भी 25 फीट ऊंचा तिरंगा लहरा रहा है, लेकिन इस घर और दोस्तों में आज भी चंदन गुप्ता की कमी खल रही है। चंदन गुप्ता की हत्या 26 जनवरी को तिरंगा रैली के दौरान उपद्रवियों ने गोली मार कर हत्या कर दी। इसकी मौत के बाद कासगंज जनपद कई दिनों तक सुलगता रहा। शासन प्रशासन ने चंदन गुप्ता के परिवार को शहीद का दर्जा दिलाने के लिए तमाम आश्वासन दिए, लेकिन आठ माह बीत जाने के बावजूद भी चंदन को न तो शहीद का दर्जा मिला न ही कोई चंदन पार्क बना। इस मामले में आज 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा रैली के दौरान बेटे को खो चुके पिता सुशील गुप्ता से वार्ता की तो फफक पड़े और बोले कि ये गलत हो रहा है। प्रशासन ने इतना फोर्स लगाया है, तो तिरंगा यात्रा भी निकलवा सकता था। वहीं उन्होंने चंदन पार्क और चंदन को शहीद का दर्जा दिलाने के सवाल पर कहा कि सरकार ने आश्वासन तो दिया था, लेकिन आज तक पूरा नहीं किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned