भाजयुमो जिलाध्यक्ष के साले ने वृद्धा को गोली मारकर उतारा मौत के घाट

बताया जा रहा है कि महिला घर में अकेली रहती थी। आरोपित उसके अकेलेपन का फायदा उठाकर उसका मकान खरीदना चाहता था...

कासगंज. लॉकडाउन के दौरान जिले में एक बड़ा मामला सामने आया है। सोरों के गांव होडलपुर में रहने वाली एक बुजुर्ग महिला को पड़ोस में रहने वाले दिव्‍यांग ने गोली मार दी है। गोली लगने से महिला की मौके पर ही मौत हो गई। आरोपित भाजयुमो जिलाध्‍यक्ष बृजेश उपाध्‍याय का -साला बताया जा रहा है। फिलहाल पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक 62 वर्षीय वृद्ध महिला जामवती पत्‍नी शिवशंकर अपने घर के बाहर बैठी थी, इसी दौरान पड़ोस में रहने वाला मोनू नाम का दिव्यांग शख्स आया और महिला को गोली मार दी। पहली गोली से महिला बच गई और घर के अंदर भागी। इसी बीच मोनू ने दूसरा फायर कर दिया। दूसरी गोली जामवती को लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद आरोपित मौके से फरार हो गया। इस दौरान लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर एएसपी पवित्र मोहन पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंच गए। इसके बाद पुलिस ने आरोपित को ढूंढने के लिए घर घर की तलाशी ली। आरोपित एक घर में छुपा हुआ मिला। पुलिस उसे पकड़कर पुलिस अपने साथ लेे गई।

भाजयुमो जिलाध्यक्ष का -साला है आरोपित

इस दौरान गांव के लोगों ने पुलिस को बताया कि महिला अपने घर में अकेली रहती है। उसकी कोई संतान नहीं है। पति भी तीन सालों से गायब है। उसके अकेलेपन का फायदा उठाकर मोनू महिला से मकान को खरीदना चाहता था, लेकिन महिला राजी नहीं हुई। इस दौरान लोगों से पुलिस को ये भी जानकारी मिली कि आरोपित मोनू भाजयुमो जिलाध्‍यक्ष बृजेश उपाध्‍याय का -साला है।

यह भी पढ़ें: कोरोना से निपटने के लिए 123 साल पुराना अधिनियम लागू, 1897 में प्लेग के लिए बना था

bjp leader
Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned