तेज रफ्तार रोडवेज बसों का कहर, अलग-अलग हादसों में तीन की मौत

कासगंज जिले में निर्धारित गति सीमा से दौड़ रही हैं रोडवेज विभाग की बसें।

By: अमित शर्मा

Published: 03 Mar 2019, 10:00 PM IST

कासगंज। जिले में रोडवेज विभाग की तेज रफ्तार बसों का कहर एक बार देखने मिला है। जिले के कासगंज, सोरों, सिढ़पुरा थाना इलाकों में अलग-अलग तीन रोडवेज बसों ने एक 11 वर्षीय किशोर समेत तीन लोगों को रौंद दिया। जिससें तीनों की मौत हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों के शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और आगामी कार्रवाई में जुटी हुई है।

हादसे की पहली घटना जिले के सोरों थाना इलाके में घटित हुई। जहां खाना खाने होटल पर जा रहे पिता पुत्र को रोडवेज बस ने टक्कर मार दी। जिसमें युवक तो बच गया, पिता की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। मृतक की शिनाख्त सोरों कोतवाली क्षेत्र हरीश शर्मा निवासी नगला सूढे के रूप में हुई। वहीं दूसरी घटना सिढ़पुरा थाना क्षेत्र की बताई जा रही है। जहां मां के साथ शादी समारोह से वापस घर लौट रहे11 वर्षीय अखिलेश पुत्र उमेश चंद्र निवासी श्यामपुर को रौंद दिया। वहीं तीसरी घटना कासगंज कोतवाली क्षेत्र के मोहनपुरा कस्बे के समीप घटित हुई। जहां रोडवेज बस ने सुरेश पुत्र हेमराज को रौंद दिया। 24 घंटों में रोडवेज बसों से घटित हुई तीन हादसों की घटनाओं में एक किशोर समेत तीन लोगों की मौत हो गई।

मौत की खबर के बाद परिवार में कोहराम मच हुआ है। फिलहाल पुलिस ने तीनों के शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है, लोगों का कहना है कि अगर रोडवेज बसें निर्धारित गति सीमा में चल रही होतीं तो, शायद ये हादसे न होते और न ही किसी को पति, किसी का पिता, किसी का लाल इस दुनिया से हमेशा हमेशा के लिए जुदा होता।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned