कासगंज में ट्रिपल मर्डर : पुरानी रंजिश में प्रधान परिवार के तीन लोगों की गोली मारकर हत्या, दो की हालत गंभीर

- सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में, गांव में तनाव

- ट्रिपल मर्डर केस को लेकर अखिलेश यादव ने योगी सरकार ने घेरा

By: Neeraj Patel

Updated: 27 Jul 2020, 02:39 PM IST

कासगंज. यूपी के कासगंज में बीते रविवार को ट्रिपल मर्डर होने से पूरे शहर में हड़कंप मच गया। ट्रिपल मर्डर में एक ही परिवार के 3 लोगों की गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी गई। गोली लगने से दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इस ट्रिपल मर्डर की वारदात के पीछे आपसी रंजिश का मामला सामने आई है। जब इसकी जानकारी पुलिस को लगी तो पुलिस ने मृतकों के शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और आरोपियों की तलाश में जुट गई।

इस ट्रिपल मर्डर मामले में कासगंज पुलिस ने अब तक 8 आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। अब पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है। अलीगढ़ रेंज के आईजी ने इस बात की पुष्टि की है कि हत्याकांड की वजह पुरानी रंजिश है। ये बात सामने आई है कि दोनों पक्षों में पिछले साल भी कुछ विवाद हुआ था और एक मुकदमा दर्ज कराया गया था। ये विवाद मर्डर का था, जिसमें एक पक्ष के कुछ लोगों को जेल भी हुई थी। यही वजह से रंजिश की ये घटना इन हालात तक पहुंच गई। फिलहाल पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए आठों आरोपियों को हिरासत में लेकर वैधानिक कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

इसके साथ ही आईजी ने बताया कि मृतकों की पहचान जौहरी के दो बेट प्रेम सिंह और पप्पू के तौर पर हुई है, वहीं रुद्र प्रताप की भी मौत हो गई है। घटना में प्रेम सिंह के दो बेटे गुड्डू और प्रमोद घायल हैं, जिन्हें अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है। जहां उनका इलाज जारी है।

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर साधा निशाना

वहीं इस मामले को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राज्य की योगी सरकार की नाकामी पर निशाना साधते हुए कहा कि कासगंज जिले में एक ही परिवार के 3 लोगों की हत्याओं से प्रदेश दहल गया है। हत्यारों के फरार होने की खबर है। उत्तर प्रदेश में धारावाहिक आपराधिक घटनाओं को देखकर लगता है कि प्रदेश की बागडोर अब शायद भाजपा सरकार के हाथ से निकलकर बदमाशों के हाथों में चली गई है।

Show More
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned