बिहार में "ब्लेड मैन" ने दशहरा मेले में बरपाया कहर,दो दर्जन महिलाओं और लड़कियों को किया जख्मी

बिहार में
file photo

Prateek Saini | Publish: Oct, 20 2018 05:02:01 PM (IST) | Updated: Oct, 20 2018 05:02:02 PM (IST) Jahanabad, Bihar, India

जहानाबाद के ठाकुरवाड़ी मैदान में दशहरा मेला लगा था...

(जहानाबाद,कटिहार): पर्व त्योहारों और उत्सवों पर जुटने वाली बेशुमार भीड़ अक्सर हादसों का गवाह बनती जा रही है। अमृतसर में रावण दहन के साथ रेलवे पटरियों पर हृदयविदारक हादसे के साथ बिहार के जहानाबाद में भी उत्सवी माहौल मनचलों की वजह से गमगीन हो गया। दशहरा मेले में ब्लेड मैन के हमलों में दो दर्जन महिलाएं और लड़कियां जख्मी होकर अस्पताल पहुंच गईं।


जहानाबाद के ठाकुरवाड़ी मैदान में दशहरा मेला लगा था। इस दर्मियान महिलाओं और लड़कियों की भारी संख्या उत्सवी मूड में वहां पहुंच खुशियां मना रही थीं। भीड़ का फायदा उठाकर कुछ मनचले युवक भी मेले में करतूतों को अंजाम देने घुस आए। मनचले युवकों ने भीड़ में ब्लेड मारकर कई महिलाओं और लड़कियों को जख्मी कर डाला। शिकार हुई महिलाओं को इसका अहसास खून के रिसाव और दर्द ज्यादा बढ़ने के साथ हुआ। एक के बाद एक कइयों के लगातार जख्मी होने पर मेले में अफरातफरी मच गई। आनन फानन में घायलों को जहानाबाद सदर अस्पताल पहुंचाया गया।

 

जिलाधिकारी आशीष वर्धन ने कहा कि सीसीटीवी फूटेज को खंगाला जा रहा है। जल्दी ही सभी बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा। इस तरह की घटनाएं आम तौर पर भीड़भाड़ में ही होती हैं।प्रशासन के इंतजाम के बावजूद लापरवाही इसकी बड़ी वजह हुआ करती है। पूर्व में पटना के गांधी मैदान में दशहरे पर रावण वध के दौरान मची भगदड़ में भी दर्जनों लोग मर चुके हैं। तब भी मनचलों की की ओर से बम की अफवाह फैलाने पर भगदड़ मची और हादसा हुआ। पहली जनवरी को नए साल के जश्न में पटना में दो साल पूर्व हुआ नाव हादसा भी लापरवाही का बड़ा नमूना बनकर आया जब बड़ी संख्या में लोग डूबकर मौत के मुंह में समा गए थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned