script1.32 crores put in the bag of others | दूसरे की झोली में डाल दिए 1.32 करोड़, 50 लाख रुपए मिले थे नकद | Patrika News

दूसरे की झोली में डाल दिए 1.32 करोड़, 50 लाख रुपए मिले थे नकद

युवाओं में स्वरोजगार और उद्यमिता की ललक और ज्यादा बढ़ाने के लिए भारत सरकार द्वारा एस्पायर योजना में कटनी में 1 करोड़ 32 लाख रुपए की लागत से लाइवलिहुड बेस्ड इक्यूबेशन सेंटर (आजीविका आधारित प्रोत्साहन केंद्र) की स्वीकृति दी गई।

 

 

कटनी

Published: March 04, 2022 04:06:50 pm

कटनी. मध्यप्रदेश के कटनी जिले में करीब 1.32 करोड़ रुपए की लागत से युवाओं के लिए स्टार्टअप ट्रेनिंग सेंटर खोला जाना था, लेकिन अफसरों ने इस बड़ी योजना का लाभ जिलेवासियों को देने की अपेक्षा दूसरे जिलेवासियों की झोली मेंं डाल दिया, इस योजना के तहत 50 लाख रुपए भाी केंद्र सरकार ने ट्रांसफर कर दिए थे।

दूसरे की झोली में डाल दिए 1.32 करोड़, 50 लाख रुपए मिले थे नकद
दूसरे की झोली में डाल दिए 1.32 करोड़, 50 लाख रुपए मिले थे नकद

युवाओं में स्वरोजगार और उद्यमिता की ललक और ज्यादा बढ़ाने के लिए भारत सरकार द्वारा एस्पायर योजना में कटनी में 1 करोड़ 32 लाख रुपए की लागत से लाइवलिहुड बेस्ड इक्यूबेशन सेंटर (आजीविका आधारित प्रोत्साहन केंद्र) की स्वीकृति दी गई। इसके लिए 50 लाख रुपए नोडल एजेंसी मध्यप्रदेश लघु उद्योग निगम को दे भी दिए। जानकर ताज्जुब होगा कि इसके बाद अधिकारियों ने इस केंद्र को कटनी में खोलने के बजाए जबलपुर में स्थानांतरित करने का निर्णय ले लिया। केंद्र सरकार की एमएसएमई विभाग से स्वीकृति प्राप्त करने के लिए पत्र भी भेज दिया। खासबात यह है कि अधिकारी युवाओं से जुड़ी इस प्रमुख केंद्र के संचालन को लेकर मनमाना निर्णय लेते रहे और स्थानीय जनप्रतिनिधि इन सबसे अंजान रहे। स्थानीय सांसद व भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने पत्रिका के सवाल पर बताया कि अधिकारियों से बात कर जरुरी कार्रवाई करवाएंगे वहीं कटनी शहर विधायक संदीप जायसवाल प्रतिक्रिया देने से ही बचते रहे।

मध्यप्रदेश लघु उद्योग निगम के प्रबंध संचालक विशेष गढ़पाले बताते हैं कि कटनी में स्वीकृत लाइवलिहुड बेस्ड इक्यूबेशन सेंटर को जबलपुर स्थानांतरित किया जा रहा है। भारत सरकार एमएसएमई विभाग को जबलपुर में स्थानान्तरित करने की अनुमति प्रदान करने का अनुरोध किया गया है।


कैसे पूरा होगा कटनी में वोकल फॉर लोकल का सपना
- 5 साल में 3 हजार से ज्यादा युवाओं को केंद्र संचालित कर प्रशिक्षित करने की तैयारी थी। जाहिर है इसका लाभ उन युवाओं को होता जो लोकल फॉर वोकल के सपने को साकार करना चाहते हैं।
- युवाओं में स्व रोजगार और उद्यमिता के क्षेत्र में रुचि विकसित करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 2015 में कृषि, उद्योग और उद्यमिता में संवर्धन और नवाचार के लिए ए स्कीम फॉर प्रमोशन ऑफ इनोवेशन एंटरप्रेन्योरशिप एंड एग्रो इंडस्ट्री (एस्पायर) योजना प्रारंभ की गई।
- फ्रोजन मटर, दाल निर्माण, सब्जियों का निर्जलीकरण, फुड ग्रेड पैकेजिंग व बेक्ग्ड फुड प्रसंस्करण आधारित स्किल तथा उद्यमिता विकास से संबंधित प्रशिक्षण युवाओं को दिए जाने की है योजना।
- युवाओं को प्रशिक्षण के लिए मेटंरिंग सपोर्ट जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर व सीएफटीआरआई मैसूर एवं तथा अन्य विषय विषेषज्ञों से दिए जाने की तैयारी.

क्या कहते हैं शहर के युवा
- मुकेश चक्रवर्ती बताते हैं कि फल, टोस्ट और गुड़ से बनी मिठाइयों का पुस्तैनी कारोबार है। पिताजी इस काम को कर रहे हैं। हमारी भी इच्छा थी कि पैकेजिंग का प्रशिक्षण मिलता तो परंपरागत व्यापार को और बेहतर कर पाते।
- युवा राकेश निषाद बताते हैं कि पिताजी की फूल की दुकान है। मेरी इच्छा थी कि गुलाब का अर्क बनाकर उसे बाजार में बेचें। मन में यह भी तमन्ना थी कि हमारा उत्पाद बाजार में सबसे कम दाम पर हो, इसके लिए ट्रेनिंग जरुरी है।

यह भी पढ़ें : येलो अलर्ट जारी : इन 11 जिलों में बिजली कड़कने के साथ होगी 3 दिन बारिश

स्टार्टअप- मध्यप्रदेश, भारत और दुनिया
- 4 सौ से ज्यादा स्टार्टअप हैं पूरे मध्यप्रदेश में.
- 2 सौ से ज्यादा स्टार्टअप अकेले इंदौर में.
- दाल और चावल से जुड़ी इकाइयां होने के कारण इससे संबंधित नए स्टार्टअप की कटनी में है संभावनाएं.
- बंगलुरू तकनीकी स्टार्टअप के मामले में देश में टॉप पर.
- हैदराबाद, मुंबई और दिल्ली एनसीआर भी तकनीकी स्टार्टअप के मामले में प्रमुख शहरों में शामिल.
- एक साल पहले अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह सिंधू ने कहा था कि भारत इस समय दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम है.
- तब भारत में 73.2 अरब कीमत वाले 21 यूनिकॉर्न का घर था, यूनिकॉर्न ऐसी स्टार्टअप कंपनियों को कहते हैं जिनकी कीमत एक अरब डॉलर से अधिक होती है.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.