ऑक्सीजन प्लांट के लिए तैयार बेस को डेढ़ महीने से मशीन का इंतजार

जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने में बेपरवाही ऐसी कि 40 दिन बाद भी शुरू नहीं हुआ मशीन लगाने का काम.

- कोरोना के खतरे के बीच कहीं मुश्किल में न डाल दे जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने में जिम्मेदारों की बेपरवाही.

By: raghavendra chaturvedi

Published: 11 Jun 2021, 12:33 AM IST

कटनी. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में दो माह पहले जब ऑक्सीजन के लिए लोग परेशान थे तब जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का काम शुरू तो कर दिया गया, लेकिन बीतते समय के साथ ही यह काम भी दूसरे सरकारी कार्यों की तरह हो गया। कटनी जिला अस्पताल में 29 अप्रैल से ऑक्सीजन प्लांट का काम एमपीआरडीसी विभाग को प्रारंभ करनी थी। जानकर ताज्जुब होगा कि 40 दिन बाद भी काम शुरू नहीं हुआ। इस बीच कोरोना के तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए नागरिक आशंकित हैं कि जिला अस्पताल में प्लांट लगाने में जिम्मेदारों की बेपरवाही इमरजेंसी में कहीं मुश्किल में न डाल दे।

6 सौ एलपीएम होगी क्षमता, कलेक्टर ने तीन विभागों के अधिकारियों की बनाई थी टीम- जिला अस्पताल में स्थापित होने वाली ऑक्सीजन प्लांट की क्षमता 6 सौ लीटर प्रति मिनट (एलपीएम) होगी। बताया जा रहा है कि ऑक्सीजन प्लांट लगने के बाद ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड में मरीज को ऑक्सीजन के फ्लो में कमीं नहीं आएगी। इमरजेंसी में इलाज में मदद मिलेगी। बतादें कि कटनी जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगने के साथ ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड को लेकर कलेक्टर ने तीन अधिकारियों की टीम बनाई थी। इसमें लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री हरि सिंह ठाकुर, पीआइयू के संभागीय यंत्री मनोज द्विवेदी और बिजली विभाग के एमएल बेरवा को शामिल किया गया था। नागरिकों का कहना है कि कलेक्टर द्वारा अधिकारियों की टीम गठित करने के एक सप्ताह बाद भी काम में प्रगति नहीं दिख रही है।

भोपाल से विलंब, कटनी में अधिकारी अंजान- जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए उपकरण खरीदी का काम एमपीआरडीसी भोपाल से हो रही है। इस बारे में कटनी के अधिकारी स्वयं को अंजान बताते हैं। मशीन कब आएगी और कब लगेगी इसकी जानकारी भी स्थानीय अधिकारियों को नहीं है।
इस बारे में एमपीआरडीसी के जिला प्रबंधक आरपी सिंह बताते हैं कि जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का काम भोपाल स्तर से चल रहा है। कंपनी से आर्डर दिए जाने की जानकारी पूर्व में प्राप्त हुई थी। मशीन कब लगेगी, इसकी जानकारी भोपाल से ही मिलेगी।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned