scriptBattery OHE powered dual mode shunting locomotive | बूढ़े डीजल इंजनों को तीस दिन में दिया नया जीवन, नाम पड़ा नवदूत, इनके काम से मिला बड़ा अवार्ड | Patrika News

बूढ़े डीजल इंजनों को तीस दिन में दिया नया जीवन, नाम पड़ा नवदूत, इनके काम से मिला बड़ा अवार्ड

बैटरी एवं ओएचई चलित ड्यूल मोड शंटिंग लोकोमोटिव डब्ल्यूएजी-5 नवदूत कर रहे तैयार
रेलवे बोर्ड द्वारा दिया गया अवॉर्ड, आईआरईई 2021 प्रदर्शनी में भी नवदूत लोकोमोटिव को अन्य जोनल रेलवे द्वारा भी मिली सराहना
जुलाई 2020 से अबतक तीन हो चुके हैं तैयार, लगातार बढ़ रही डिमांड

कटनी

Published: December 22, 2021 09:39:26 pm

कटनी. पश्चिम मध्य रेल द्वारा पर्यावरण संरक्षण की दिशा में सराहनीय प्रयास किया जा रहा है। इसी दिशा में उल्लेखनीय कार्य करते हुए विद्युत लोको शेड न्यू कटनी जंक्शन द्वारा शंटिंग का कार्य करने के लिए बैटरी एवं ओएचई चलित ड्यूल मोड शंटिंग लोकोमोटिव का निर्माण किया गया है। कटनी के रेल अफसरों व कर्मचारियों ने नया कीर्तिमान रचकर शहर का मान बढ़ाया है।
पश्चिम मध्य रेल के डब्ल्यूएजी-5 नवदूत बैटरी एवं ओएचई चलित ड्यूल मोड शंटिंग लोकोमोटिव के डिजाइन को रेलवे बोर्ड द्वारा अवॉर्ड दिया गया है। इस बैटरी एवं ओएचई चलित ड्यूल मोड शंटिंग लोकों को जबलपुर, कटनी, कटनी मुड़वारा और अन्य बड़े स्टेशनों पर उपयोग में किया जा रहा है। यह पूर्णत: डीजल रहित लोको है। यह ड्यूल मोड शंटिंग लोको पश्चिम मध्य रेल के शत प्रतिशत इलेक्ट्रिफिकेशन के लिए वरदान साबित हो रहा है। इसके साथ ही अभी हाल में ही नई दिल्ली में आयोजित आईआरईई 2021 प्रदर्शनी में इस बैटरी एवं ओएचई चलित ड्यूल मोड लोकोमोटिव नवदूत के डिजाइन को अन्य जोनल रेलवे द्वारा खूब सराहना मिली। विशेषकर दक्षिण रेलवे द्वारा इसकी अलग से तारीफ की गई और डिजाइन की मांग भी की गई।

बूढ़े डीजल इंजनों को तीस दिन में दिया नया जीवन, नाम पड़ा नवदूत, इनके काम से मिला बड़ा अवार्ड
बूढ़े डीजल इंजनों को तीस दिन में दिया नया जीवन, नाम पड़ा नवदूत, इनके काम से मिला बड़ा अवार्ड

ऐसे काम करता है नवदूत
- डब्लूएजी-5 लोकोमोटिव पूर्णत: इलेक्ट्रिक एवं बैटरी ड्यूल मोड शंटिंग लोकोमोटिव है।
- 25 केवी एसी ओएचई के तहत दो मोड यानी ओएचई मोड में संचालित होता है और 25 केवी ओएचई उपलब्ध नहीं होने पर ट्रैक्शन बैटरी, बैटरी मोड चार्ज करेगा।
- 25 केवी ओएचई के तहत, 4 ट्रैक्शन मोटर के साथ लोको काम करता है।
- ट्रैक्शन मोटर्स कर्षण बैटरी से 110 डीसी वोल्टेज के साथ काम करेगी।

यह है नवदूत की खासियत
इस लोकोमोटिव की ओएचई मोड में अधिकतम गति 35 किमी/घंटा और बैटरी मोड में 15 किमी, घंटा है। अतिरिक्त सुरक्षा के लिए कर्षण बैटरी को ओवरलोडिंग एवं ओवरचार्जिंग की सुविधा दी गई है। दोनों कैब में ड्राइवर के डेस्क पर तापमान रीडिंग के लिए बैटरी बैंक के तापमान की निगरानी के लिए उपयोग की जाने वाला उपयुक्त तापमान सेंसर रहता है। चालक ओएचई के माध्यम से लोको को बैटरी मोड में पैंटोग्राफ स्विच, एमपी और डीजे निष्क्रिय नहीं कर सकता है। वोल्टेज और ट्रैक्शन बैटरी बैंक का करंट ट्रैक्शन और चार्जिंग के दौरान किसी भी कैब में प्रदर्शित होता है। ड्यूल मोड शंटिंग गुड्स यार्ड, साइडिंग और शंटिंग ऑपरेशन में लास्ट माइल ऑपरेशन में बेहतर परिचालन सुगमता प्रदान करता है जो गैर-विद्युतीकृत, वायु और ध्वनि प्रदूषण से मुक्त है।

पूरे उम्र वाले डीजल इंजन से किया गया है तैयार
इस विशेषता वाले इंजन को लेकर धर्मेंद्र कस्तवार सीनियर डीई टीआरएस एनकेजे व ने बताया कि जुलाई 2020 से अबतक तीन नवदूत बनकर तैयार हो गए हैं। चौथे का काम चालू है। एक जबलपुर शंटिंग, दो इलेक्ट्रिक लोकोशेड एनकेजे में शंटिंग के लिए उपयोग हो रहा है, स्टेशन यार्ड में उपयोग हो रहा है। 25 से तीस दिन में तैयार कर दिया जाता है। डब्ल्यूसीआर ने यार्ड में शंटिंग लोकोमोटिव बनाने के लिए टास्क दिया। पहले यार्ड में डीजल इंजन लगता था, ऐसे में डीजल खत्म होने पर परेशानी जाती थी। जीएम ने कहा था कि कोई एक ऐसा इंजन बनाओ, जिससे यार्ड में शंटिंग हो जाए, और दोनों से चल सके। अब जो डीजल इंजन कंडम हो गए हैं, लाइफ पूरी हो गई थी, उन इंजिनों से इसे तैयार किया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकातत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाराजस्थान में आज भी बरसात के आसार, शीतलहर के साथ फिर लौटेगी कड़ाके की ठंडJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 23 January 2022: सिंह राशि वालों के मन में प्रसन्नता रहेगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमRepublic Day 2022 parade guidelines: बिना टीकाकरण और 15 साल से छोटे बच्चों को परेड में नहीं मिलेगी इजाजतइलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करना अब नहीं पड़ेगा महंगा, IIT ने तैयार की नई तकनीक, लागू होने पर EV भी हो सकते हैं सस्तेहरियाणा में अभी नहीं खुलेंगे स्कूल, जानिए शिक्षा मंत्री ने क्या कहाMPPSC Recruitment : चिकित्सा के क्षेत्र में कई पदों पर निकलीं भर्तियां, ऐसे करें आवेदन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.