...आखिर 40 साल से क्यों हैं झुग्गी-झोपड़ी में रहने इनकी मजदूरी

...आखिर 40 साल से क्यों हैं झुग्गी-झोपड़ी में रहने इनकी मजदूरी
Benefits of Housing Scheme for poor not found in Barahi

Balmeek Pandey | Publish: Apr, 28 2019 04:36:17 PM (IST) | Updated: Apr, 28 2019 04:36:18 PM (IST) Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

जनप्रतिनिधि भी नही दे रहे ध्यान, बरही नगरपरिषद के वार्ड नं 11 का मामला

कटनी/बरही. सरकारें सबका साथ सबका विकास करने का वादा करती हैं, लेकिन यह सिर्फ घोषणाओं तक ही सीमित है। हकीकत तो कुछ और ही है। बरही नगर परिषद में 40 साल से सैकड़ों गरीब झोपड़ी में रहते हैं। इन्हें अभीतक पक्का मकान नसीब नही हुआ। बरही नगर परिषद के वार्ड नं 11 में रोज खाने कमाने वाले दर्जनों गरीब 40 साल से झोपडी बनाकर रहते हैं। यहां रहने वाले गरीब आवास योजना से वंचित है। बताया गया कि इन गरीबों का राशन कार्ड बना है और नगर परिषद की कुछ योजनाओं का लाभ भी मिल रहा है, लेकिन पक्का मकान नहीं है। इन परिवारों की माली हालत इतनी खराब है कि वे कच्चा मकान भी अपने लिए नहीं बना पा रहे।

नेताओं पर लगाया आरोप
राजेन्द्र सिंह ने बताया कि हम लोग यहां के स्थायी वोटर भी हैं। यहां दो दर्जन से अधिक झोपडी बनीं हैं जिनमें लगभग सौ से अधिक लोग रहते हैं। बताया कि बरसात के दौरान जहरीले जीव जंतुओं का डर बना रहता है। बच्चे खुले में खेलते हैं, लेकिन हम गरीब मजदूर झोपड़ी में रहते हैं। विधानसभा चुनाव के दौरान कई नेता वोट मांगने आये थे उस दौरान पक्का मकान देने का वादा किये, लेकिन चुनाव जीतने के बाद कोई गरीबों को देखने भी नही आया।

इन्होंने बताई समस्या
राजेन्द्र सिंह ने बताया कि स्थानीनय जनप्रतिनिधियों से निवेदन भी किया गया, लेकिनं हमे सरकार की योजनाओं का लाभ नही मिला। सिर्फ आश्वसन दिया गया। ग्रामीण राजेन्द्र सिंह मूर्ति केकाड़ी, कमला केकाड़ी, लक्षमण केकाड़ी, किशन केकाड़ी, लक्ष्मी सिंह शिवा केकाड़ी, अशोक केकाड़ी, शोभनाथ केकाड़ी, दत्ता केकाड़ी, राहुल केकाड़ी, ने जनप्रतिनिधियों व प्रशासन से मांग किया है हमें पक्का आशियाना दिलाया जाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned