12वीं में गणित, विज्ञान और वाणिज्य संकाय के बचे पेपर हुए स्थगित, कक्षा 10वीं हिंदी का होगा बाद में

-21 मार्च से शुरू होना था बोर्ड परीक्षा की कॉपियों को जांचने का काम, जिले में शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय को बनाया गया है मूल्यांकन केंद्र

 

कटनी. नोवेल कोरोना वायरस का प्रभाव स्कूल और महाविद्यालयों की परीक्षाओं पर भी पड़ा है। कक्षा 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षा और 21 मार्च से शुरू होने वाले उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य एहतियात के तौर पर स्कूल शिक्षा विभाग ने 31 मार्च तक स्थगित कर दिया है। बोर्ड परीक्षा और कापियों को जांचने के लिए अब अलग से तारीख घोषित की जाएगी। बतादें कि कक्षा 10वीं में हिंदी का पेपर होना बाकी रह गया था। जबकि कक्षा 12वीं में गणित, विज्ञान और वाणिज्य संकाय के दो-दो पेपर होना शेष थे।
उत्तर पुस्तिकाओं को जांचने 567 शिक्षकों की लगाई गई है ड्यूटी-
जिले में बोर्ड परीक्षा कक्षा 10वीं, 12वीं की उत्तरपुस्तिकाओं के जांचने का कार्य 21 मार्च से शुरू होना था। शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय माधवनगर को कॉपी जांचने का केंद्र बनाया गया है। 567 शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। शनिवार से शुरू होने वाले उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य में कोई गड़बड़ी न हो, इसके लिए जिले में लगभग तैयारी भी पूरी हो गई थी। जिला शिक्षाधिकारी बीबी दुबे ने बताया कि प्रदेश सरकार ने आदेश मिलने के बाद जिले में भी निर्देश जारी कर दिए गए हैं।
इधर बीए, बीएसी और बीकॉम अंतिम वर्ष की परीक्षाएं भी हुई स्थगित
7 मार्च से शुरू हुई बीए, बीएसी और बीकॉम अङ्क्षतम वर्ष की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई। उच्च शिक्षा विभाग ने एहतियात के तौर पर परीक्षाओं को स्थगित कराने विश्वविद्यालयों को गुरुवार को आदेश जारी किया। जिसके बाद विश्वविद्यालयों ने परीक्षाओं को स्थगित करने सभी महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देश दिए। शासकीय तिलक महाविद्यालय की प्रभारी प्राचार्य डॉ. चित्रा प्रभात ने बताया कि बीए, बीएससी और बीकॉम अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 7 मार्च से शुरू हुई थी। लगभग 50 फीसदी परीक्षा हो चुकी थी। आगामी समय सारिणी घोषित होने के बाद शेष पेपर आयोजित किए जाएंगे।

dharmendra pandey Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned