Weather: 1.5 किलोमीटर ऊंपर बनी द्रोणिका, जिले में कई जगह बारिश

12 मई तक है बारिश व तेज आंधी की संभावना, मूंग व उड़द के फसल को भी नुकसान

By: balmeek pandey

Updated: 11 May 2021, 09:19 PM IST

कटनी. एक बार फिर कटनी जिले का मौसम बदल गया है। कैमोर-विजयराघवगढ़ क्षेत्र में तेज बारिश हुई तो वहीं शहर में भी बूंदाबांदी का माहौल रहा। शहर में सुबह से आसमान पर बादल छाए रहे। जिले के कई गांवों में हल्की फुहार पडऩे की खबर रही। मौसम विभाग की मानें तो यह मौसम 12 मई तक रहेगा। जिले में अभी पांच दिनों तक कहीं-कहीं पर बारिश तो कहीं पर फुहार के साथ तेज आंधी चलने की संभावना है। कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक संदीप चंद्रवंशी ने बताया कि समुद्र तल से 1.5 किलोमीटर की ऊंचाई पर एक द्रोणिक मध्यप्रदेश के उत्तरी भाग में बनी हुई है। इसी प्रकार एक कम दबाव का क्षेत्र समुद्र तल से 0.9 किलोमीटर की ऊंचाई पर उत्तरी मध्यप्रदेश से लेकर पश्चिम विदर्भ तक बना है। सीधी-सिंगरौली से लेकर विदर्भ तक कम दबाव का क्षेत्र बना है। जिसके कारण पूर्वी मध्यप्रदेश के साथ-साथ कटनी जिले में बारिश की संभावना बनी हुई है।
संदीप चंद्रवंशी के अनुसार 12 मई तक कहीं-कहीं पर बारिश होने की संभावना है। इसमें गरज-चमक व तेज वहा के साथ बारिश की संभावना है। इस दौरान अधिकम तापमान 40 से 42 डिग्री सेल्सियस, रात का तापमान 23 से 24 डिग्री सेल्सियत रहने की संभावना है। हवा दिशा पश्चिम से चल रहा है। यह 12 से 20 किलोमीटर प्रतिघंटा के मान से चलने की सभावना है।

किसानों के लिए संदेश
लगातार बादल बने रहने के कारण मूंग-उड़द में सफेद मक्खी का प्रकोप बढऩे की संभावना है व कहीं पर शिकायत भी है। ऐसे में पत्ते पीले पडऩे की संभावना है। इसके लिए किसान मक्खी को नियंत्रित करें। निकटतक कृषि विज्ञान केंद्र व कृषि अधिकारियों स संपर्क कर दवा आदि का उपयोग कर फसल को बचाएं।

balmeek pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned