VIDEO: छठ पर्व में उमड़ा आस्था का सैलाब, व्रतियों ने डूबते सूर्य को दिया अर्घ्य, मांगी सुख-समृद्धि

बाबाघाट, छपरवाह घाट, कटायेघाट व बजरंग कॉलोनी में उत्तरभारतियों ने उल्लासपूर्ण माहौल में मनाया छठ पर्व, छठी मैया का पूजन कर बांटा प्रसाद
छपरवाह व बाबाघाट में रहा मेले जैसा माहौल, छठ गीतों से गूंजे नदी घाट

By: balmeek pandey

Published: 21 Nov 2020, 09:12 AM IST

कटनी. शुक्रवार को शहर में उत्तरभारितयों द्वारा छठ पर्व उल्लासपूर्ण माहौल में मनाया गया। शाम को शहर के गायत्री नगर स्थित बाबाघाट, छपरवाह घाट मंगलनगर, कटायेघाट, बजरंगधाम कॉलोनी में पर्व की अद्भुत छटा देखने को मिली। लोगों ने परिवार के साथ घरों से छठी मैया की पालकी निकाली। जो घाट में विराजमान की। छठ पर निर्जला व्रत रहने वाली महिलाओं ने डूबते सूर्य को अघ्र्य देकर भगवान सूर्य और छठी मैया से लंबी उम्र सुख-समृद्धि के लिए कामना की। इस दौरान छठी माई के महिमा अपार..., केलवा के पात पे उगेलन सुरजम, छठी मईया के दिहल ललनवा, हे छठी मैया, उठा सूरज भैले बिहान, कईसे करबु छठी माई के वरतीया, छठी ताई के पूजनवा सहित अन्य छठी मैया की आराधना के गीतों के साथ पूजा-अर्चनामहिलाओं ने की। छठ महापर्व पर लोगों में अपार उत्साह देखा गया। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर नगर निगम, पुलिस-प्रशासन का अमला मुस्तैद रहा। संतान सुख, संतान की लंबी उम्र, पति की दीर्घायु और उन्नति की कामना को लेकर महिलाओं ने व्रत रखा। पर्व के दौरान जमकर सेल्फी-ग्रूफी का दौर चला।

मंडप बनाकर किया पूजन
छठ पूजा पर घाटों में गन्ने के सुंदर मंडम तैयार किए गए। व्रती महिलाओं ने बांस का सूप सजाया। इसमें साड़ी, नारियल, सब्जी, कपड़े, फल सहित ठेकुआ पकवान व अन्य सामाग्री रखकर छठी मैया को समर्पित किया। महिलाओ ने जल में प्रवेश कर भगवान सूर्य को अघ्र्य दिया। धूप-दीप नैवेद्य से पूजन किया। व्रतधारियों ने नए कपड़े पहने। छठ महापर्व में व्रती गेहूं के आटे से बना 'ठेकुआ' का प्रसाद तैयार किया। पर्व लेकर घरों में दिनभर तैयारी का दौर चला। दोपहर से ही घाटों पर बांस के सूप, टोकनी, दौरी आदि को सजाकर लोग घाट पर पहुंचे।

बच्चों ने मेले का उठाया लुत्फ
शहर के बाबाघाट, छपरवाह घाट में मेले का आयोजन किया गया। यहां पर गृहस्थी के सामान सहित बच्चों के खिलौने और साज-सज्जा की दुकानें सजी रहीं। बच्चों ने यहां पर झूलों आदि का जमकर लुत्फ उठाया। पर्व पर युवाओं द्वारा जमकर आतिशबाजी की। पूर्वांचल सांस्कृतिक समिति द्वारा भी इंतजाम किए गए। सभी को कोरोना गाइड लाइन का पालन करने जागरुक किया गया। वहीं पूजन घाटों में नगर निगम द्वारा विशेष इंतजाम किए गए। साफ-सफाई सहित पेयजल आदि की व्यवस्था की गई थी। विद्युत विभाग द्वारा प्रकाश की व्यवस्था की गई।

आज उगते सूरज को अघ्र्य देकर होगा पारण
व्रती महिलाओं द्वारा रखे गए छठ व्रत का पारण रविवार उगते हुए सूरज को अघ्र्य देकर किया जाएगा। व्रत खोलने के लिए व्रती सुबह 4 बजे से चारों नदी घाटों पर पहुंचेंगे और भगवान सूर्य के उदय होने का इंतजार करेंगे। दर्शन, अघ्र्य और पूजन के बाद व्रत का पारण किया जाएगा।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned