चीतल को वाहन ने मारी ठोकर, दो सौ मीटर घसीटा

विजयराघवगढ़ से बरही मार्ग की घटना, मृत चीतल के शरीर से बाहर आ गया चमड़ी.

कटनी. सड़क पर वाहन चलाने के दौरान वाहन चालकों की मनमर्जी वन्यप्राणियों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। विजयराघवगढ़ से बरही मार्ग पर 16 फरवरी की सुबह करीब पांच बजे अज्ञात वाहन ने चीतल को ठोकर मार दी। रेंजर वीएस चौहान ने बताया कि वाहन ने ठोकर मारकर करीब दो सौ मीटर तक घसीट ले गया। इससे मृत चीतल के शरीर की चमड़ी निकल गई।

रेंजर ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही वन विभाग के कर्मचारियों को मौके पर भेजा गया। ठोकर मारने वाले वाहन की तलाश की जा रही है। ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में वन्यप्राणी मूवमेंट वाले स्थानों पर उनकी सुरक्षा को लेकर वन विभाग के कर्मचारी प्रभावी भूमिका का निर्वहन नहीं कर रहे हैं। सड़क के किनारे जंगल और घास बाहुल्य क्षेत्र में चीतल सहित अन्य प्राणी आ रहे हैं। ऐसे में वे सड़क भी पार करते हैं।

वन्यप्राणी जहां पर सड़क पार कर रहे हैं, उस स्थान पर वन विभाग द्वारा सूचना बोर्ड तक नहीं लगाया गया है। ग्रामीणों ने मांग की है कि मुख्य मार्ग पर ऐसे स्थानों पर स्पीड ब्रेकर का निर्माण करवाया जाए, जिससे वन्यप्राणियों की सुरक्षा प्रभावित नहीं हो।

raghavendra chaturvedi Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned