कलेक्टर ने किया ताबड़तोड़ निरीक्षण, लापरवाही पर सर्वेयर को हटाया, कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी को नोटिस

कलेक्टर ने किया धान खरीदी केन्द्रों का औचक निरीक्षण, बेपरवाही पर लगाई फटकार

By: balmeek pandey

Published: 21 Nov 2020, 08:59 AM IST

कटनी. जिले के 102 धान खरीदी केन्द्रों में समर्थन मूल्य में धान उपार्जन 16 नवंबर से शुरू हो गया है। केंद्रों की नब्ज टटोलने के लिए गुरुवार को कलेक्टर शशिभूषण सिंह औचक निरीक्षण पर पहुंचे। कृषि उपज मंडी कटनी, स्लीमनाबाद, बहोरीबंद तहसील के अनेक धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान एसडीएम बहोरीबंद रोहित सिसोनिया, जिला आपूर्ति अधिकारी पीके श्रीवास्तव, डीएम नान पीयूष माली, जिला प्रबंधक वेयर हाउसिंग डीके हवलदार, तहसीलदार विजय द्विवेदी आदि मौजूद रहे। कृषि उपज मंडी पहरूआ में स्थापित धान खरीदी केन्द्र कटनी, क्रमांक-1 में ऑपरेटर से अब तक किसानों से की गई धान खरीदी और कुल पंजीकृत किसानों की जानकारी ली। केन्द्र का संचालन गंगा स्वसहायता समूह द्वारा किया जा रहा है। धान खरीदी केन्द्र में दो दिनों तक लॉगिन आइडी जनरेट नहीं होने से दो किसानों की धान की तौल बकाया होने पर सर्वेयर उमाशंकर प्रजापति को हटाने के निर्देश दिए। इस बेपरवाही पर जमकर फटकार लगाई। कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी को कारण बताओं नोटिस जारी करने कहा।
शिरोमणि वेयर हाउस नैगवां में हिन्दुस्तानी ग्राम समूह संगठन द्वारा संचालित तेवरी के खरीदी केन्द्र के निरीक्षण के दौरान समूह की सदस्य महिलाओं से धान खरीदी के संबंध मे जानकारी ली। सर्वेयर दिनेश जैन को खरीदी केन्द्र में समय पर उपस्थित कराने के निर्देश दिए। भोला वेयर हाउस स्लीमनाबाद हरदुआ के खरीदी केन्द्र के निरीक्षण के दौरान बताया गया कि गुरूवार को 20 किसानों को एसएमएस किए गए हैं । केन्द्र में 560 किसान पंजीकृत हैं। हरदुआ खरीदी केन्द्र पर कलेक्टर ने किसानों से चर्चा की। किसान किशोरीलाल ने बताया कि उनके भतीजे प्रभात का सिकमी किसान के रूप में पंजीयन हुआ था, लेकिन सत्यापन के समय आवश्यक दस्तावेज नहीं दे पाने से सत्यापन नहीं हो सका है। कलेक्टर ने जिला आपूर्ति अधिकारी और तहसीलदार को किसान की समस्या का निराकरण करने के निर्देश दिए। सारथी वेयर हाउस सिहुडीं के धान खरीदी केन्द्र कारी पाथर के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने संलग्न लक्ष्मीबाई ग्राम संगठन की महिला स्वसहायता समूह सदस्यों से चर्चा कर प्रोत्साहित किया। 24 किसानों को एसएमएस किये गये हैं अब तक कोई किसान फसल बेचने नहीं आया।

खास-खास:
- वेयर हाउस बहोरीबंद के ओपन कैप का किया निरीक्षण, 1 लाख 15 हजार एमटी की है भंडारण क्षमता, सिंदूरसी, बहोरीबंद और पथराड़ का हुआ है मैप।
- बहोरीबंद समीप मनरेगा से बन रहे 5 हजार एमटी भंडारण क्षमता ओपन कैप का किया निरीक्षण, कार्यपालन यंत्री आरईएस को 30 नंवबर तक पूरा कराने दिए निर्देश।
- उपतहसील बाकल कार्यालय भवन और परिसर का किया निरीक्षण, पौधरोपण कराने दिए निर्देश।
- खाद्य विभाग और धान उपार्जन कार्य से जुड़े विभागीय अधिकारी बिना कलेक्टर से अनुमति प्राप्त किए शासकीय अवकाश अवधि में भी नहीं छोड़ेगें मुख्यालय।

balmeek pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned