कलेक्टर ने कहा, टीएल में निर्देश के बाद भी नहीं घट रहीं लंबित शिकायतों की संख्या

कलेक्टर ने कहा, टीएल में निर्देश के बाद भी नहीं घट रहीं लंबित शिकायतों की संख्या
टीएल में निर्देश के बाद भी नहीं घट रहीं लंबित शिकायतों की संख्या

raghavendra chaturvedi | Updated: 04 Jul 2019, 11:59:24 AM (IST) Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

सीएम हेल्पलाइन में दर्ज होने वाली शिकायतों की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा तारीख तय किए जाने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप.

प्रत्येक माह के पहले मंगलवार को सीएम करेंगे सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों की समीक्षा, इस बार 9 जुलाई की तारीख तय.

कलेक्टर ने कहा समय सीमा (टीएल) की बैठक में बार-बार कहने के बाद भी कम नहीं हो रही लंबित शिकायतों की संख्या

कटनी. सीएम हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों की लगातार बढ़ती संख्या से शिकायत करने वाले आवेदक परेशान हैं तो अब यह अधिकारियों के लिए समस्या का सबब बन रही है। सीएम हेल्पलाइन में लंबित शिकायतों को लेकर कटनी कलेक्टर एसबी सिंह की पीड़ा यह है कि उनके द्वारा बार-बार कहने के बाद जिलास्तर के अधिकारी शिकायतों के निराकरण पर गंभीर नहीं हैं।
कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों को दो टूक कहा कि टीएल बैठक में विभाग प्रमुखों को सीएम हेल्पलाइन के प्रकरण निराकृत करने के निर्देश दिए जा रहे हैं, इसके बाद भी संख्या में कमीं नहीं आ रही है। कटनी में लंबित प्रकरणों को लेकर भोपाल के अधिकारी भी नराजगी जता चुके हैं।

 

read also

ये हैं अफसर, इन्हें सीएम हेल्पलाइन में भी दर्ज शिकायतों की नहीं परवाह

एक कंपनी जो मार्बल खदान के नाम पर सरकार को 129 करोड़ का चूना लगा गई और जिम्मेदार विभाग के अधिकारी हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे

video: रिटायर हुईं सफाईकर्मी तो पूरे शहर में कुछ इस तरह निकला जुलूस

 


दरअसल सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथा द्वारा नौ जुलाई की तारीख नियत की गई है। इसके बाद से ही जिला प्रशासन में हड़कंप है। सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों के मामले में कटनी जिला प्रदेश के टॉप के 20 जिलों में शामिल है।
मुख्यमंत्री कमलनाथ 9 जुलाई को जनाधिकार कार्यक्रम अंतर्गत सीएम हेल्पलाइन में लंबित प्रकरणों की समीक्षा करेंगे। प्रत्येक माह के प्रथम मंगलवार को होने वाले इस कार्यक्रम से पहले कटनी जिले में लंबित प्रकरण निपटाने के लिए कलेक्टर एसबी सिंह ने विभागीय अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने कहा कि जिस भी विभाग में प्रकरण लंबित रहा तो अब अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned