कांग्रेस की मांग: निजी अस्पतालों में निशुल्क हो कोविड का इलाज, एंबुलेंस की निर्धारित हों दरें, देखें वीडियो

सीटी स्कैन सेंटर, बिजली समस्या आदि को लेकर कांग्रेसियों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

 

By: balmeek pandey

Published: 29 Sep 2020, 08:50 PM IST

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. जिला (शहर) कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मिथलेश जैन एडवोकेट एवं जिला ग्रामीण के अध्यक्ष गुमान सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को कलेक्टर को ज्ञापन सौपकर मांग रखी कि पूरे प्रदेश के साथ-साथ कटनी जिले में भी कोविड-19 में भोपाल एवं इंदौर की तर्ज पर एक-एक निजी चिकित्सालय में उक्त बीमारी से पीडि़त व्यक्तियों के नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था की जाए, मात्र 4 अस्पतालों को इस बीमारी के इलाज के संबंध में कोविड केयर सेंटर के रुप में चिन्हित किया गया है, लेकिन अन्य निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम को बीमारी के इलाज के लिए अधिकृत नहीं किया गया। सभी को कोविड केयर सेंटर बनाया जाए। सभी निजी चिकित्सालयों में नि:शुल्क इलाज हो। कोविड-19 की बीमारी के संबंध में पता लगाने के लिए चिकित्सकों के परामर्श से सीटी स्केन कराया जाता है। वर्तमान में कटनी जिला चिकित्सालय में सीटी स्केन कराए जाने की कोई व्यवस्था नहीं है। जिसके कारण बीमार व्यक्ति निजी सीटी स्केन चलाने वालों के पास जाते हैं, जहां मनमाने ढंग से रुपये वसूल किए जा रहे हैं। सीटी स्केन की दरें भी निश्चित कर उन पर नियंत्रण रखने मांग की। शहर के सभी होटलों, बारात घरों का अधिगृहण कर कोविड केयर सेंटर के रूप में बनाना निश्चित किया गया था, लेकिन अब जब बीमारी भयावह रूप ले रही है तब सारे होटलों व बारात घरों को उक्त प्रावधान से मुक्त कर दिया गया है। जिन मरीजों के घरों में होम आईसोलेशन और क्वॉरंटीन होने की उचित व्यवस्था नहीं है, उन्हें उनकी मांग अनुसार होटलों या बारात घरों को अधिगृहित करते हुए वहां उचित दर पर होम आईसोलेशन और क्वॉरंटीन के रूप में रखे जाने की कार्यवाही की जाए।

यह भी रखी मांग
कोविड मरीजों को अन्य शहरों में इलाज के लिए एम्बुलेंस के द्वारा भेजे जाने पर मनमाना किराया लिया जा रहा है, जिसे नियंत्रित किया जाए। कलेक्टर ने कहा है कि दिव्यांचल गार्डन में होम आइसोलेशन करने के लिए व्यवस्था की जाएगी। जिला चिकित्सालय में मरीजों को खाने पीने के लिए स्वाद युक्त अच्छा भोजन दिया जाएगा। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में सैकड़ों की तादाद में ट्रांसफार्मर बंद पड़े हैं, समय पर विद्युत शिकायतों का निराकरण नहीं हो रहा है और विद्युत बिल भी अनाप-शनाप आ रहे हैं जिससे जन आक्रोश बढ़ता जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि विद्युत अधिकारियों की बैठक बुलाकर समस्या का निदान कराएंगे। इस दौरान ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष रमेश सोनी, राजा जगवानी, प्रशांत जायसवाल, गिरीश गर्ग, राज किशोर यादव, जितेंद्र अहिरवार आदि मौजूद रहे।

Corona virus
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned