जांच में सिद्ध हुई गड़बड़ी, स्कूल बिल्डिंग बनाने वाला ठेकेदार टर्मिनेट, 40 लाख रुपये हुए राजसात

बड़वारा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम विलायतकला में 86 लाख रुपये की लागत से बन रही बिल्डिंग का गुणवत्ताविहीन कार्य कराए जाने का मामला सामने आया है। इस पर पीआइयू द्वारा ठेकेदार को टर्मिनेट करते हुए अमानत राशि को राजसात कर लिया गया है।

By: balmeek pandey

Updated: 24 Jul 2020, 11:41 AM IST

कटनी. बड़वारा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम विलायतकला में 86 लाख रुपये की लागत से बन रही बिल्डिंग का गुणवत्ताविहीन कार्य कराए जाने का मामला सामने आया है। इस पर पीआइयू द्वारा ठेकेदार को टर्मिनेट करते हुए अमानत राशि को राजसात कर लिया गया है। जानकारी के अनुसार विलायतकला में 86.1 लाख रुपये की लागत से हाइस्कूल भवन का निर्माण चला रहा था। ठेकेदार वृजेंद्र पांडेय द्वारा निर्माण कराया जा रहा था। शुरुआती दौर से ही ठेकेदार द्वारा गुणवत्ताविहीन कार्य किया जा रहा था। लगातार ग्रामीण शिकायत कर रहे थे, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। जब बिल्डिंग का स्ट्रक्चर पूरी तरह से खड़ा हो गया है तो कार्रवाई की गई है। इसमें बुधवार को पीआइयू के कार्यपालन यंत्री द्विवेदी, एसडीओ दिनेश मिश्रा, एपीसी अभय जैन ने निरीक्षण किया। निरीक्षण में पूरी बिल्डिंग में खामियां पाईं। गुणवत्ताविहीन कार्य पाए जाने पर ठेकेदार को टर्मिनेट करते हुए 40 लाख रुपये की अमानत राशि को जब्त कर लिया गया है। एपीसी अभय जैन ने बताया कि ठेकेदार द्वारा मानकों के विपरीत स्कूल भवन का निर्माण कराया गया, जिसके चलते कार्रवाई हुई है।

पत्रिका ने उठाया था मुद्दा
विलायतकला में निर्माणधीन स्कूल में चल रहे गुणवत्ताविहीन कार्य को पत्रिका ने प्रमुखता से उजागर किया था। इसके बाद बड़वारा तहसीलदार क्षमा सराफ ने भी निर्माणधीन स्कूल बिल्डिंग का निरीक्षण किया था। ठेकेदार को गुणवत्ता सुधार के निर्देश दिए थे, इसके बाद भी बेपरवाही जारी थी। ठेकेदार की मनमानी पर यह कार्रवाई की गई है।

balmeek pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned